बनारस। महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ में प्रवेश परीक्षा आवेदन की तिथि बढ़वाने को लेकर छात्र संघ आज लामबंद हो गया। छात्र संघ के पदाधिकारियों सहित सैंकड़ों छात्रों ने शनिवार को विश्वविद्यालय के कुलसचिव का घेराव किया और प्रशासनिक भवन के सामने धरने पर बैठ गए। छात्रों का कहना है कि विगत दिनों भरे जा रहे ऑनलाइन फार्म में सर्वर की समस्या की वजह से कुछ छात्र प्रवेश परीक्षा फार्म नहीं भर पाएं है, इसलिए ऑनलाइन फॉर्म फाइलिंग का समय बढ़ाया जाये। छात्रों के धरने के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने तिथि बढ़ाने की बात कहकर धरने को समाप्त करवाया।

शनिवार को महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ विश्वविद्यालय में प्रवेश परिक्षा आवेदन की तिथि बढ़वाने की मांग को लेकर विश्वविद्यालय के छात्रसंघ अध्यक्ष अनूप कुमार सोनकर और महामंत्री समीर कुमार मिश्रा के नेतृत्व में विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार का छात्रों ने घेराव किया एवं प्रशासनिक भवन पर धरने पर बैठ गये।

छात्र संघ अध्यक्ष अनूप कुमार सोनकर ने बताया कि ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा फ़ार्म भरने की अंतिम तिथियों में विश्वविद्यालय की वेबसाइट का सर्वर अत्यधिक दबाव के चलते बहुत धीरे काम कार रहा था। जिस कारणवश कई छात्र फ़ार्म भरने से वंचित रह गए है। हमने कुछ दिन पहले इस बारे में अधिकारियों से बात की थी पर कोई निष्कर्ष नहीं निकला। आज हमने जब इस बारे में कुलसचिव से बात की तो उन्होंने विलम्ब शुल्क के साथ फार्म भरने की बात कही। जो की छात्र हित में उचित नहीं है। क्योंकि कई गरीब छात्र ऐसे भी है जो ट्यूशन पढ़ाकर अपनी पढ़ाई का खर्चा पूरा करते है उनपर अधिभार डालना सही नहीं है।

कुलसचिव के इस जवाब के बाद छात्र धरने पर बैठ गए। धरना प्रदर्शन कर रहे छात्रों को समझाने का प्रयास किया गे पर छात्र नहीं माने। अंत में कुलसचिव ने बिना विलम्ब शुल्क के ऑनलाइन फार्म बढ़ाने की बात कही तो छात्रों समाप्त किया।
Comments