बनारस। दिवाली खुशियों का त्यौहार है।  खुशियों के इस त्यौहार को इको फ्रेंडली बनाने के लिए वाराणसी में युवाओ की टोली ने आज छात्राओं को इको फ्रेंडली दिवाली मनाने के की शपथ दिलाई और रैली निकालकर लोगो को भी इको फ्रेंडली दिवाली मनाने की अपील की। दुर्गा चरण गर्ल्स इंटर कालेज की छात्राओं का साथ इस अभियान में होप संस्था की ग्रीन ग्रुप की महिलाओं ने भी साथ दिया। यह अभियान होप संस्था का पहला शहरी क्षेत्र का अभियान था।

इस मौके पर क्षेत्राधिकारी कोतवाली स्नेहा तिवारी ने छात्राओं को इको फ्रेंडली दिवाली मानाने की शपथ दिलाई की किस तरह से पटाखों और अन्य चीज़ों से हमारा वातावरण एक दिन में कितना ज़हरीला हो जाता है।  उन्होंने बताया कि छात्राओं ने पूरे समाज को जागरूक करने का जो बीड़ा उठाया है वह कबीले तारीफ़ है। हम इनकी हर सम्भव मदद करेंगे और प्रयास करेंगे कि सभी इको फ्रेंडली दिवाली मनाएं। होप संस्था के सदस्यों ने जो शुरुआत की है वो आगे तक जाएगी।

छात्राओं ने इस दिवाली काम पटाखे जलाने के साथ ही आर्टिफिशियल दीयों की जगह मिटटी के दीपक से घर सजाने का शपथ ली। उन्होंने दूसरों को भी इसके लिए जागरूक किया ।  खुशियों के त्यौहार में पटाखों के ज्यादा प्रयोग से प्रदूषण का स्तर बढ़ जाता है वायु में बढ़ती प्रदूषण हमारे लिए ही खतरा पैदा कर सकता है। यही वजह है कि इस साल छात्राओं ने भी इको-फ्रेंडली दीवाली मानाने पर ज्यादा जोर दे रही है।

होप संस्था द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में होप के सदस्य भी मौजूडी रहे। ग्रीन ग्रुप की महिलाओं ने भी छात्राओं के साथ जागरूकता फैलाई।

 

Comments