बनारस। बीते दिनों सिगरा थानाक्षेत्र में हुई ठेकेदार की ह्त्या की गुत्थी अभी वाराणसी पुलिस सुलझा पाने में कामयाब भी नहीं हुई कि इसी बीच सोमवार देर रात एडीजी कार्यालय से चंद कदम की दूरी पर स्थित मिंट हाउस इलाके में हौसला बुलंद बदमाशों ने कई राउंड गोलियां चलाकर बाईक सवार व्यक्ति को मौत के घाट उतार दिया। बदमाशों ने विरोध करने पर युवक के भाई को भी असलहे की मुठिया से मारकर जख्‍मी कर दिया। 

वहीं घटना के बाद चेतगंज थाना प्रभारी ने नशे में धुत दो बदमाशों को धर दबोचा। बताया गया कि दोनों युवक सपा पार्षद की हत्‍या के लिए वहां मौजूद थे लेकिन गोलियों की जद में आकर युवक की मौत हो गई।

 

 

जानकारी के अनुसार सुल्तानपुर निवासी श्रवण कुमार मिंट हाउस इलाके में गार्ड के रूप में तैनात अपने भाई से मिलने के लिए आया था। इसी दौरान ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू हो गयी।  इस फायरिंग में श्रवण कुमार को भी गोली लगी और वह मौके पर गिर गया। 

 

 

उसके भाई ने प्रतिरोध किया तो बाइक सवार अपराधियों ने उसे असलहे की मुठिया से मारकर घायल कर दिया।  घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने श्रवण कुमार को गंभीर अवस्था में बीएचयू ट्रामा सेंटर पहुंचाया जहां उसकी इलाज के दौरान a हो गयी। 

अपर पुलिस महानिदेशक के कार्यालय से चंद कदम की दूरी पर हुई इस वारदात से पूरा पुलिस प्रशासन हिल गया है। इसका असर या रहा कि देर रात चेतगंज थाना इंचार्ज राजीव रंजन ने इस गोली काण्ड में शामिल रहे दो बदमाशों को नशे की हालत में गिरफ्तार कर लिया। सूत्रों के मुताबिक़ बदमाश सपा के एक पार्षद की ह्त्या की नीयत से वहां आये थे और उन्होंने अंधाधुंध फायर कर के एक निर्दोष की जान ले ली। 

 


Comments