जौनपुर/बनारस। बीएचयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष एवं काग्रेस के वरिष्ठ नेता चंचल सिंह को जौनपुर की बदलापुर पुलि‍स ने गि‍रफ्तार कर लि‍या है। बुधवार को दीवानी न्यायालय के मजिस्ट्रेट ने 38 साल पुराने एक मामले में उन्‍हें जेल भेज दिया है।

 

चंचल सिंह की फाइल फोटो


बता दें कि‍ सन 1982 में महराजगंज के बीडि‍ओ रहे आईएएस टीडी गौर ने थाना बदलापुर मे मु०अ०सं० 66, 82 से एक मुकदमा धारा 353 का पंजीकृत कराया था। जिसमें गाली-गलौज देने व सरकारी काम में बाधा उत्पन्न करने का आरोप चंचल सिंह पर लगाया गया था।

घटना के समय पुलिस द्वारा चार्जशीट दाखिल करने के बाद न्यायालय में उपस्थित हो कर जमानत कराने के बाद चंचल कभी कोर्ट नहीं गये। जिसके कारण 15 जून सन 1984 को कोर्ट ने उनका बेल बांड निरस्त कर उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट और फिर कुर्की 82 -83 का आदेश कर दिया था।

इस आदेश का आजतक अनुपालन ना होने पर कोर्ट ने कड़ा रुख अख्‍ति‍यार कर लि‍या। इसके बाद थाना बदलापुर की पुलिस ने बुधवार को चंचल सिंह की गिरफ्तारी कर उन्‍हें न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया।

इस मामले में चंचल सिंह ने अपने अधिवक्ता के जरिये न्यायालय में वारन्ट रिकॉल करने का प्रार्थना पत्र दिया लेकिन मजिस्ट्रेट ने रिकॉल प्रार्थना पत्र निरस्त कर पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष व कांग्रेस के वरि‍ष्‍ठ नेता को जेल भेज दिया। उनके अधिवक्ता दुष्यन्त सिंह ने जमानत याचिका दायर किया जिस पर मजिस्ट्रेट ने 9 नवम्बर 17 की तिथि लगा दिया है।

Comments