बनारस। शहर में निकाय चुनाव की सरगर्मियां तेज़ हो चुकी है।  26 नवम्बर को वाराणसी में निकाय चुनाव के लिए मतदान होंगे ऐसे में सभी प्रत्याशियों ने चुनाव प्रचार में अपनी ताकत झोंक दी है पर चुनाव प्रचार में कुछ प्रत्याशी आचार संहिता की धज्जियां भी उड़ाते दिख रहे हैं।  इसी क्रम में वार्ड नंबर 18 नदेसर के प्रत्याशी मासूम बच्चों से बिस्कुट के बदले अपना प्रचार करवा रहे हैं। बच्चे देश के प्रधानमंत्री का मुखौटा मुह पर लगाये गली गली प्रत्याशी के पक्ष में आवाज़ लगाते चल रहे हैं।

 

सत्ता का सुख सभी को प्यारा है।  सत्ता को पाने के लिए लोग हर तरीका इस्तेमाल करते हैं।  ऐसा ही नज़ारा देखने को मिला वार्ड नंबर 18 नदेसर की एक गली में , जिसमे चार साल से लेकर 10 साल तक के बच्चे अपने चेहरे पर प्रधानमंत्री का मुखौटा लगाए और एक पार्टी विशेष का झंडा लिए प्रत्याशी के पक्ष में वोट करने की अपील कर रहे हैं।

 

 

 
प्रचार कर रहे मासूम रिंकू ( बदला हुआ नाम ) ने बताया कि हम सुबह से ही अपने भाई और दोस्तों के साथ घूम रहे हैं।  इसके लिए नेता जी ने हमें बिस्कुट का पैकट भी दिया है। इस सम्बन्ध में Livevns ने अपने विधिक सलाहकार बनारस बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष विवेक शंकर मिश्र से बात की तो उन्होंने बताया कि 14 साल से कम के बच्चों से कोई भी कार्य करवाना बाल श्रम के अंतर्गत आता है साथ ही प्रलोभन देकर कार्य करवाना आचार संहिता का सीधा सीधा उल्लंघन है। 
Comments