बनारस।  शहर के अस्सी घाट पर चल रहे तीन दिवसीय कुश्ती चैम्पियनशिप के समापन में पुरुषो के साथ महिलाओं ने भी पहली बार अपना दम – खम दिखाया कुश्ती के फाइनल राउंड में पुरुषो से मुकेश कुमार तो महिलाओं से फ्रीडम यादव ने बनारस केशरी का पदक हासिल किया।


 गंगा घाट पर कुश्ती के दाव पेंच दिखाते पहली तस्वीर है पुरुष कुश्ती के खिलाड़ियों की जंहा दो पहलवानो ने अपने कुश्ती दावपेंच के साथ एक दूसरे पर आजमाते हुए मुकेश कुमार ने अपने साथी पहलवान को पटकनी देते हुए बनारस केशरी का खिताब अपने नाम किया इस दौरान खिताब जितने वाले को को इनाम में एक मोटर बाइक दी गयी मुकेश ने बताया की वो अपनी बाइक अपने चाचा को देगा क्योंकि उनके पास गाड़ी नहीं है और आज वो जो कुछ भी है अपने चाचा की वजह से है।

इसके बाद नंबर आया महिला पहलवानो का जो पहली बार गंगा घाट अपने कुश्ती का जौहर दिखा रही थी महिला पहलवानो ने भी अपनी कुश्ती के दांव पेंच दिखाकर सभी को हैरान कर दिया महिला पहलवानो ने जमकर कुश्ती लड़ी और फ्रीडम यादव ने कुश्ती जीतकर महिलाओं की बनारस केशरी का ख़िताब अपने नाम किया।महिला पहलवान इसका श्रेय अपने कोच को दिया।

इस समबन्ध में कुश्ती के आयोजनक और संकटमोचन मंदिर के महंत पनदिर विशम्भर नाथ मिश्रा ने बताया किइस चैम्पियनशिप में लड़कियों की भागीदारी ने बनारस के कुश्ती इतिहास में एक नये अध्याय की शुरुवात हुई है और अब लड़किया तो पुरुष पहलवानो को पिछड़ते हुए नजर आ रही है अब आगे प्रतियोगिता और कड़ी हो जायेगा।
Comments