बनारस ।मुक़द्दस हज यात्रा 2018 पर जाने वाले हज यात्रियों के लिए राहत भरी खबर है। हज यात्रा के लिए समाप्त हो रही अंतिम तारीख को 15 दिन आगे बढ़ाते हुए हज कमेटी ऑफ इण्डिया ने अन्तिम तारीख 22 दिसम्बर कर दी है। ये जानकारी मुम्बई से हज कमेटी ऑफ़ इण्डिया, भारत सरकार के सदस्य एवं वाराणसी निवासी डा. इफ्तिखार अहमद जावेद ने दी है।

डॉ इफ्तेखार अहमद जावेद ने बताया कि केंद्रीय हज कमेटी ने ऑनलाइन हज आवेदन की तारीख 15 नवम्बर से 7 दिसंबर तक रखी थी । आज हुई मुम्बई में केंद्रीय हज कमेटी में ज़ायरीनों की गुज़ारिश को मानते हुए केंद्रीय हज कमेटी ने आवेदन की अंतिम तिथि 7 दिसम्बर से बढ़ाकर 22 दिसम्बर कर दिया है साथ ही पासपोर्ट जारी होने की तारीख को भी बढ़ा कर 22 दिसम्बर तक कर दिया गया है । इससे जिन हज आवेदकों के पासपोर्ट अभी तक नहीं मिल पाए उन्हें भारी राहत मिलेगी।

डॉ. जावेद ने बताया कि मीटिंग में तय हुआ कि अज़ीज़या में ठहरे हाजियों को बस में 30 रियाल यानि 522 रुपया सभी को वापस मिलेगा। मदीने में मरकज़ीया इलाके के बहार रुके हाजियों को भी 350 रियाल यानि 51878 हाजियों को 6087 रूपये के रेट से सभी को वापस मिलेगा।


Recent Posts

जिन हाजियों को मीना में मेट्रो में जगह न मिला हो, बस से चले हो, ऐसे हाजियों को भी 70 रियाल यानि 1217 रूपये मिलेंगे। इस साल का पेनाल्टी के रूप में रिफण्ड लगभग 45 करोड़ रूपये हाजियों को वापस करने का काम BMC बैंक को दिया गया है । 70+ में दो के हाजियों साथ दो कम्पैनियन जा सकते हैं, उनको बिन लॉटरी के भेजा जाएगा।

Comments