बनारस। 22 सितम्बर की रात छात्राओं पर हुए लाठीचार्ज के बाद काशी हिन्दू विश्वविध्यालय और विवादों का चोली दामन का साथ होता दिखाई दे रहा है। जहां बीते बुधवार को छात्रों ने विश्वविध्यालय परिसर में जमकर बवाल काटा वहीं गुरूवार की देर रात एक पूर्व छात्र द्वारा विश्वविध्यालय के जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार सिंह को जान से मारने की धमकी का मामला प्रकाश में आया।  जन संपर्क अधिकारी राजेश सिंह ने इस घटना के बारे में विश्वविध्यालय के प्रक्टोरियल बोर्ड को लिखित रूप से अवगत कराते हुए अपनी व परिवार की सुरक्षा की मांग की है।

घटना के समबन्ध में काशी हिन्दू विश्विद्यालय के जनसंपर्क अधिकारी राजेश सिंह ने प्रक्टोरियल बोर्ड को लिखे पत्र में कहा है कि गुरूवार की शाम खुद को विश्वविध्यालय का पूर्व छात्र बताने वाले शेखर सिंह नामक व्यक्ति ने फोन करके मुझसे अभद्रता की और कहा कि तुमने ही छात्र नेता आशुतोष सिंह का नाम मीडिया को बताया तुम उसे बदनाम करने की साजिश रच रहे हो।  तुम बच नहीं पाओगे मै तुम्हे जान से मार दूंगा।

फोन आने के बाद राजेश सिंह ने प्रक्टोरियल बोर्ड को इसकी सूचना दे दी है।  जिसके बाद से विश्वविद्यालय प्रशासन में हडकंप मचा हुआ है। विश्वविद्यालय प्रशासन जनसंपर्क अधिकारी को सुरक्षा मुहैया करवाने की तयारी कर रहा है।

Comments