बनारस। माफिया से माननीय बने एमएलसी बृजेश सिंह पिछले दिनों हड्डियों में दर्द की शिकायत पर ट्रामा सेंटर में भर्ती किये गए हैं।  पुलिस अभिरक्षा में उनका इलाज चल रहा है।  इसी बीच प्रमुख समांजसेवी और सिकरौरा नरसंहार की वादिनी हीरावती देवी के विधिक सलाहकार राकेश न्यायिक ने कुछ दिन पूर्व ज़िले के उच्च अधिकारियों से मिलकर एमएलसी और सिकरौरा नरसंहार के मुख्य आरोपी बृजेश सिंह के ट्रामा सेंटर से फरार होने की आशंका व्यक्त करते हुए आरोप लगाया है कि बृजेश सिंह पूर्व की भांति पुलिस अभिरक्षा से फरार होकर मुक़दमे को प्रभावित कर सकते हैं। 

 

 

 

सिकरौरा नरसंहार मामले में एक नया मोड़ उस वक़्त आ गया जब इस मुकदमे में मुख्य आरोपी एमएलसी बृजेश सिंह को हड्डियों में दर्द के बाद बीते दिनों ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया।  जहां उनका इलाज हो रहा है।  इधर बीच प्रमुख समाजसेवी राकेश न्यायिक ने बृजेश सिंह के अस्पताल से फरार होने की उच्च अधिकारियों से आशंका व्यक्त कर प्रशासनिक अमले में हड़कंप मचा दिया है। राकेश न्यायिक ने इस सम्बन्ध में 23 दिसंबर को जिलाधिकारी से मिलकर एवं मुख्य सचिव गृह के नाम एक पत्र भेजा है।

गौरतलब है कि विगत 22 तारीख को माननीय उच्च न्यायालय ने मुकदमा वादिनी हीरावती देवी का बयान दर्ज करने का आदेश सिकरौरा नरसंहार की सुनवाई कर रही एडीजे कोर्ट तृतीय को दिया है। इस केस की अगली तारीख़ 2 जनवरी को है। कानूनी मामलों के जानकारों के अनुसार 2 जनवरी को होने वाली गवाही इस फैसले के लिए महत्वपूर्ण मानी जा रही है।  
Comments