बनारस। समूचे पूर्वांचल में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। वहीं काशी नगरी में मंगलवार का दिन बेहद सर्द रहा। पूरे दिन शहर का तापमान कई मर्तबा शिमला और नैनीताल को भी मात दे गया। मंगलवार का दिन इस मौसम का सबसे सर्द दिन रिकॉर्ड किया गया। मौसम विभाग ने अधिकतम 12.8 डिग्री तथा न्‍यूनतम 9.4 डिग्री तापमान रिकार्ड किया है।

तो इसलिए पड़ रही ऐसी सर्दी
बताया गया कि पहाड़ों पर बर्फबारी और सर्द हवाओं की वजह से ठंड और गलन में वृद्धि हुई है। मौसम विज्ञानी प्रो. एसएन पांडेय के अनुसार जमीन की सतह से एक किमी ऊपर तक शुष्क हवाएं और नीचे पुरवा नम हवाओं के चलते तापमान गिरता जा रहा है।


अभी राहत नहीं मिलेगी

फिलहाल मौसम विज्ञानी भी ये मान रहे हैं कि आने वाले तीन-चार दिनों तक बनारस की जनता को सर्दी का सितम झेलना पड़ सकता है। प्रोफेसर ने बताया कि जम्मू-कश्मीर के ऊपर एक वेस्‍टर्न डिस्‍टर्बेंस बनता दिख रहा है। यह लगातार आगे की ओर बढ़ रहा है जो कि पंजाब, हरियाणा और राजस्थान के बाद उत्‍तर प्रदेश पहुंचेगा जिसके चलते एक हफ्ते बाद दुबारा ठंड बढ़ सकती है।


12वीं तक के स्‍कूल बंद

इधर कड़ाके की ठंड को देखते हुए वाराणसी के जिलाधिकारी योगेश्‍वर राम मिश्रा ने 12वीं तक के सभी स्‍कूलों को आगामी 4 जनवरी तक बंद रखने के निर्देश दिये हैं। जिला विद्यालय निरीक्षक ओपी राय ने बताया कि बारहवीं तक के सभी विद्यालयों को यह आदेश मानना है। आदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद, सीबीएसई व आईसीएसई बोर्ड के स्‍कूलों पर लागू होगा।


प्रैक्‍टिकल एग्‍जाम होंगे

उन्‍होंने बताया कि आदेश का उल्‍लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। अधिकारी के अनुसार यूपी बोर्ड के प्रैक्‍टिकल एग्‍जाम तथा उससे संबंधित काम जारी रहेंगे। इसके अलावा प्रधानाचार्य सहित संबंधित टीचर स्‍कूल में उपस्‍थित रहेंगे।


Comments