बनारस। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार देर रात वाराणसी में विकास कार्यों का जमीनी जायजा लेने सड़क पर उतरे। बेहद सर्द रात और आठ डिग्री तापमान में मुख्‍यमंत्री का औचक निरीक्षण दीनापुर एसटीपी प्‍लांट से शुरू होकर अलईपुर शेल्‍टर होम, मंडुआडीह आरओबी, भारत माता मंदिर, कैंट स्‍टेशन, दशाश्‍वमेध घाट तक ताबड़तोड़ चला।

 

 

मुख्‍यमंत्री रात नौ बजे के बाद विकास कार्यों का जमीनी निरीक्षण करने बनारस की सड़कों पर उतरे। इस दौरान वह पहले दीनापुर एसटीपी पहुंचे। योगी दीनापुर के बाद अलईपुर स्‍थित रैनबसेरा पहुंचे। यहां से निकलकर उन्‍होंने कैंट के पास फ्लाईओवर का कार्य देखा। इसके बाद मुख्‍यमंत्री भारत माता मंदिर पहुंचे। यहां से निकलकर योगी का काफिला मंडुआडीह फ्लाइओवर का हाल देखने पहुंचा। सबसे आखिरी में योगी आदित्‍यनाथ ने दशाश्‍वमेध घाट पहुंचकर विकास कार्यों का स्‍थलीय निरीक्षण किया और अफसरों को निर्देश दिये।

 


रात में नगर भ्रमण पर निकले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ विधि न्याय मंत्री नीलकंठ तिवारी भी मौजूद रहे। मुख्‍यमंत्री ने सिगरा एवं कैंट के जवाहर नगर चौराहे पर पहुंचकर निरीक्षण किया। उन्‍होंने मौके पर ही उत्तर प्रदेश राज्य सेतु निगम के अधिकारियों से वार्तालाप कर जरूरी निर्देश दिये। इस दरम्‍यान वाराणसी के जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र, आईजी, एसएसपी सहित अन्‍य सीनियर अफसर मौजूद रहे।


कनाडाई दल से मिले योगी

स्‍थलीय निरीक्षण से पहले मुख्‍यमंत्री ने सर्किट हाउस में कनाडा से आये प्रतिनिधियों से मुलाकात की। इस मौके पर कनाडा के शहर आंटीरियो और उत्तर प्रदेश के बीच शिक्षा, कला और संस्कृति पर सहयोग करने की सहमति बनी। इसके अलावा पेयजल, स्मार्ट विलेज और महिला सशक्तिकरण पर एक दूसरे के सहयोग पर भी आपसी सहममि बनी।


कनाडाई प्रतिनिधिमंडल में नेता प्रतिपक्ष पैट्रिक ब्राउन के साथ संसदीय दल के सदस्य जैस जोहल, नीना टांगरी, अमरजोत संधु, दीपक आनन्द, जैक बैडबेल, उद्योगपति जतिंदरवीर वनवैत, अश्विन टांगरी, लॉज प्रॉशर, सुखबीर सिंह, दलजीत सिंह, संजय सैनी आदि शामिल रहे।


इस दौरान मंत्री अनिल राजभर, मंत्री नीलकंठ तिवारी, विधायक सुरेंद्र सिंह औढ़े, विधायक सौरभ श्रीवास्‍तव, सांसद उदित राज प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

 

देखिए तस्‍वीरें

दीनापुर में


अलईपुर में

 

भारत माता मंदिर में

 

दशाश्‍वमेध 

Comments