बनारस। उत्‍तर प्रदेश में इस समय कड़ाके की ठण्ड पड़ रही है। सभी अपने-अपने घरों में दुबके हुए हैं। ऐसे में कैंट रेलवे स्टेशन जीआरपी थाने की ओर से ग़रीबों-असहायों को इस कड़ाके की ठण्ड में कुछ राहत देने का काम किया गया।

 

एसएसआई विनोद कुमार के नेतृत्व में जीआरपी मालखाने में रखे पुराने कपड़ों को गरीब बच्चों में वितरित किया। ये बच्चे रेलवे स्टेशन पर ही दिन रात रहते हैं।

 


कई दिनों से जीआरपी थाना कैंट रेलवे स्टेशन के मालखाने में धूल खा रहे कपड़ों को पहनकर आज कडाके की ठण्ड में मासूमों के चेहरे खिल उठे। मौक़ा था कैंट रेलवे स्टेशन के जीआरपी थाने के मालखाने में रखे हुए कपड़ों का गरीब बच्चों में वितरण का।



इस सम्बन्ध में जीआरपी एसएसआई विनोद कुमार ने बताया कि पूरे उत्तर भारत में कडाके की ठण्ड है। कैंट रेलवे स्टेशन के सर्कुलेटिंग एरिया में कई परिवार भीख मांगकर अपना गुज़ारा करते हैं। इनके छोटे-छोटे बच्चे इस गर्मी में दुबके हुए थे। जीआरपी थाने के मालखाने में काफी दिनों से कपडे रखे हुए थे, जो यात्रियों के छूटे हुए लावारिस बैग और अन्‍य जगहों से मिलते हैं। उन्हें बच्‍चों में वितरित किया गया है।


जीआरपी थाना कैंट रेलवे स्टेशन के कर्मियों द्वारा की गयी इस पहल से जहां गरीब बच्चों के चेहरे पर मुस्कान तैर गयी, वहीं सभी ने जीआरपी थाने के इस पुनीत कार्य के लिए सराहा।

Comments