बनारस। अगर आप के घर के सामने कोई खानाबदोश परिवार टेंट बनाकर रह रहा है और कोई ख़ास व्यवसाय न करता हो , अगर वह पन्नी बीनकर अपने परिवार का गुज़ारा करता हो तो इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दें क्योंकि ये शातिर चोर हो सकते हैं।  इस बात का खुलासा उस समाय हुआ जब वाराणसी क्राइम ब्रांच ने 50 हज़ार के इनामिया अंतर्राज्ययीय चोर को सलाखों के पीछे किया।  यह चोर नट प्रजाति का है और इसके अनुसार ये लोग पन्नी डालकर रहते हैं और दस दिनों के अन्दर वहां के मकानों की रेकी कर वहां चोरी को अंजाम देते हैं।

जिले में बढ़ रहे अपराध और अपराधियों की धर पकड़ के लिए एसएसपी वाराणसी आर के भारद्वाज के निर्देश में एसपी क्राइम ज्ञानेंद्र त्रीपाठी की टीम को आज एक और सफलता उस वक़्त हाथ लगी जब क्राइम ब्रांच की टीम ने फूलपुर थाने की मदद से अंतर्राज्ययीय शातिर चोर व 50 हज़ार के इनामिया को उसके साथियों के साथ गिरफ्तार कर लिया। इन्होने कई डकैतियों में अपने होने की बात क़ुबूल की है।

इस सम्बन्ध में पुलिस लाईन सभागार में मीडिया के समक्ष अपराधियों को पेश करते हुए बताया कि कल देर शाम क्राइम ब्रांच के अधिकारी बाबतपुर चौराहे पर अपराधियों के सुराग में मौजूद थे उसी समय फूलपुर ठाणे के उप निरीक्षक विजय प्रताप सिंह वहां पहुंचे और अपराधियों की धर पकड़ पर बातचीत होने लगी।  उसी समय मुखबिर ख़ास से सूचना मिली की फूलपुर का इनामिया अपराधी धर्मेन्द्र अपने साथियों के साथ किसी घटना को अंजाम देने के लिए रमईपुर मंगारी मोड़ पर मौजूद है।

इस बात पर विशवास करते हुए जब दोनों ही टीम उस मोड़ पर पहुंची तो कुछ लड़के वहां दिखाई दिए उन्हें पुलिस ने रुकने को कहा तो वो भागने लगे पुलिस के दौडाने पर उन्होंने पुलिस टीम पर फायर कर दिया।  पुलिस और क्राइम ब्रांच ने मौके पर घेराबंदी कर वहां मौजूद  50 हज़ार के इनामिया चोर धर्मेन्द्र नट निवासी  बाराडीह,  सासाराम बिहार, पप्पू नट निवासी भांवरकोल, गाजीपुर, दीपक नट निवासी बाराडीह, सासाराम बिहार, सत्यनारायण निवासी बक्सर, बिहार और लल्लन राम निवासी छपरा बिहार को धर दबोचा।

इनके पास से 17 हज़ार रूपये नगद सहित दो तमंचा 12 बोर का और 5 ज़िंदा कारतूस 12 बोर के, एक तमंचा 315 बोर के असलहे सहित तीन मोबाइल फोन भी बरामद हुए हैं।

Comments