बनारस। भारत एक कृषि प्रधान देश है और यहां की अर्थवयवस्था कृषि आधारित है।  प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में कृषि को उन्नत करने के उद्देश्य से राजकीय महाविद्यालय जक्खिनी के कृषि संकाय ने गुरूवार को कृषि विज्ञान प्रदर्शनी और कृषि गोष्ठी का आयोजन किया गया। 

किसानो को रबी के सीजन में कृषि के क्षेत्र में कौन कौन से उन्नत कार्य किये जायें उसके बारे में बताया गया साथ ही स्कूल के छात्र छात्राओं ने प्रदर्शनी में एक से एक माडल पेश किये जिसकी सरहाना हर किसी ने की।

राजकीय महाविद्यालय जक्खिनी में गुरूवार को आयोजित हुई कृषि एवं विज्ञान प्रदर्शनी के बारे में बात करते हुए संरक्षक डॉ संतोष सिंह ने बताया कि इस कृषि एवं विज्ञान प्रदर्शनी के माध्यम से महाविद्यालय के छात्रों ने डिजिटल इंडिया और नई तकनीक के माडल पेश किये हैं।  जिससे कृषि के क्षेत्र में नई क्रान्ति आ रही है। उन्होंने बताया कि इस प्रदर्शनी के बाद कृषि गोष्ठी का भी आयोजन किया गया था जिसमे 200 से अधिक किसानो ने हिस्सा लिया। 


इस किसान गोष्ठी में काशी हिन्दू विश्वविध्यालय के प्रोफ़ेसर डॉ जैनेन्द्र सिंह ने बताया कि रबी की फसल में किसानो को किस किस तरह की सावधानियां बरती जानी चाहिए।  जिससे फसल उन्नत हो और किसानो को भी फायदा भी हो। वहीं एग्रोनामी के एसोसिएट प्रोफ़ेसर डॉ संतोष सिंह ने बताया कि गेंहूं में कब कब सिंचाई करे जिससे गेंहूं का उत्पादन अच्छा हो और किसानो को फायदा हो। 

Comments