बनारस। वाराणसी में शुक्रवार को डीएवी इण्टर कालेज के प्रधानाचार्य डा राधाकान्त मिश्र के जल्द से जल्द स्वस्थ होने के लिए एक प्रार्थना सभा एवं विशाल धरना प्रदर्शन का आयोजन किया गया। उत्तर प्रदेश प्रधानाचार्य परिषद के तत्वाधान में जिले के समस्त विद्यालयों के अध्यापक एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों ने उनके स्वस्थ होने के लिए ईश्वर से प्राथना किया।

 

 आप को बता दे की  विगत दिवस जिला विद्यालय निरीक्षक वाराणसी के कार्यालय में डी.ए.वी. इण्टर कालेज, वाराणसी के निलम्बित प्रवक्ता ओम प्रकाश के प्रकरण में सुनवाई के दौरान निलम्बित प्रवक्ता ओम  प्रकाश एवं उनके साथियों द्वारा प्रधानाचार्य  राधाकान्त मिश्र के प्रति किये गये घोर अपमानजनक टिप्पणी से उन्हें गहरा सदमा  पहुचा। जिससे वे कार्यालय में ही गिर पड़े।

 

 आनन-फानन में वहां के कर्मचारियों और अध्यापकों ने उन्हें तत्काल लंका स्थित हेरिटेज हाॅस्पिटल में भर्ती कराया। जिसके कारण प्रधानाचार्य डा राधाकान्त मिश्र अस्पताल में जीवन और मुत्यु के बीच संघर्ष कर रहे हैं, जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।

 

विद्यालय में आयोजित धरना प्रदर्शन में शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों द्वारा एक स्वर में  स्वरों में निलम्बित प्रवक्ता ओम प्रकाश द्वारा किये गये इस अशोभनीय कृत्य की घोर निन्दा की गयी।

 

 आक्रोशित वक्ताओं ने कहा कि ऐसा शिक्षक जो सदैव अध्यापन कार्य से विरत रहता हो, छात्र-छात्राओं के सामने ही गन्दी-गन्दी गालिया देता हो एवं साथी अध्यापकों एवं कर्मचारियों के साथ अमर्यादित भाषा का प्रयोग करता हो, वह कदापि शिक्षक नही हो सकता।

 ऐसे असामाजिक तत्व समाज के लिए एक कलंक है।  ऐसे व्यक्ति पर जिला प्रशासन जल्द से जल्द कार्रवाई कर गिरफ्तार करें, अन्यथा भविष्य में पठन-पाठन के साथ-साथ होने वाली आगामी यू.पी. बोर्ड की परीक्षा ठप कर दी जायेगी।

 

उप्र प्रधानाचार्य परिषद ने उच्चाधिकारियों से निलम्बित प्रवक्ता की बर्खास्तगी की भी मांग की। धरना सभा में मुख्य रूप से डा हरेन्द्र कुमार राय, अध्यक्ष प्रधानाचार्य परिषद वाराणसी, डा. चन्द्रशेखर सिंह, प्रधानाचार्य, आर.पी. रस्तोगी इण्टर काॅलेज, वाराणसी, डा त्रिलोकी नाथ पाण्डेय, प्रधानाचार्य हरिश्चन्द्र इण्टर कालेज, वाराणसी, डा दयाशंकर मिश्र ‘दयालु आदि लोग मौजूद रहे।  
Comments