बनारस। अपने आध्यात्मिक ज्ञान से पूरी दुनिया में हिन्‍दुत्‍व का लोहा मनवाने वाले स्वामी विवेकानंद की जयंती शुक्रवार को वाराणसी में धूमधाम से मनाई गई। इस दौरान बीएचयू की तरफ से राष्ट्रीय युवा यात्रा का आयोजन किया गया। यात्रा विश्वविद्यालय परिसर के एग्रीकल्चर ग्राउंड से निकल कर आईपी विजया होते हुए अस्सी घाट पर जाकर समाप्त हुई।

जोश से लबरेज दिखे युवा
यात्रा के दौरान युवाओं में काफी जोश देखने को मिला। युवा ढोल-नगाड़ों के साथ यात्रा में आगे बढ़ रहे थे। राष्ट्रीय युवा यात्रा में स्वामी विवेकानंद की झांकियां सजाई गई थी। यात्रा में काफी संख्या में छात्र व छात्राएं शामिल हुए।

यात्रा पर पुलिस की पैनी नजर 
बीएचयू में गत दिनों हुए बवाल को देखते हुए कई थानों की पुलिस फोर्स के साथ पीएसी के जवान इस पूरी यात्रा पर बारीक नजर बनाए रहे, जिससे किसी प्रकार के अवांछनीय और असामाजिक तत्‍व इस आयोजन में खलल ना पैदा कर सकें।   
शिकागो सम्मेलन से बढ़ाया देश का मान

बता दें कि स्वामी जी ने 11 सितम्‍बर 1893 में शिकागो धर्म सम्मेलन में जहां भारत के गौरव को पूरी दुनिया के सामने रखा, वहीं ब्रिटिश काल में भी देश के नौजवानों को भारतीय, भारतीयता और अपनी वेदांत संस्कृति से रूबरू कराया। स्‍वामी जी के अथक प्रयासों का ही नतीजा रहा कि दुनिया ने भारतीय आध्‍यात्‍म का लोहा माना। 
Comments