कैंट स्‍टेशन के सामने इकट्ठा हुए बुजुर्ग रिटायर्ड रेलकर्मी, सरकार से मांगा अपना हक

बनारस। रिटायर्ड रेलकर्मियों ने रेलवे पेंशनर्स एसोसिएशन वाराणसी के तत्‍वाधान में अपनी मांगों को लेकर कैंट स्‍टेशन के सामने धरना दिया है। लंबित समस्याओं के निराकरण में हो रही अनावश्‍यक देरी की बात उठाते हुए बुजुर्ग सेवानिवृत कर्मचारियों ने सरकार से गुहार लगायी है।

 

धरने को सम्बोधित करते हुए महामंत्री डॉ प्रदीप शर्मा ने पेंशनर्स की इन मांगो को प्रमुख रूप से उठाया –

 

1 – पूर्व सेवानिवृत्त पेंशनर्स के पेंशन रिवीजन व नया पीपीओ जारी करने में विलम्ब हो रहा है।  
2 –  सेवानिवृत्त कर्मचारी के प्रथम भुगतान में विलम्ब होता है। 
3 – स्थाई चिकित्सा भत्ता की स्वीकृति व भुगतान में उदासीनता बरती जाती है।  
4 – पेंशनर्स को लैमिनेटेड पहचान पत्र का जारी नहीं किया गया है। 
5 – जनवरी 2016 से जुलाई 2016 तक सेवानिवृत को सेवानियुक्ति भुगतान के दिन मेडिकल कार्ड न देना।
6 – पेंशन अदालत की घोर उपेक्षा। 
7 – पेंशनर्स को आयकर सीमा से वंचित किया जाए। 
8 – कैशलेस मेडिकल ट्रीटमेंट की सुविधा ना देना। 

9 – डीरेका के चिकित्सालय में उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के सेवानिवृत पेंशनर्स का पंजीकरण न करना।

 

इन सभी मांगो पर चर्चा करते हुए मंडल प्रशासन को आग्रह किया की इन समस्यों को लेकर पेंशनर्स में भारी आक्रोश व्याप्त है। धरना सभा, कार्यक्रम सभा का आयोजन सचिव राम श्रीवास्तव, की अध्यक्षता में संपन्न हुआ तथा संचालन उमेश चंद्र श्रीवास्तव द्वारा किया गया। 
Comments
Loading...