वाराणसी के सोयेपुर में जमकर उपद्रव, पुलिस पर पथराव-आगजनी 

बनारस। कैंट थानान्तर्गत सोयेपुर में जमीनी विवाद में ग्रामीणों को समझाने बुझाने पहुंचे प्रशासनिक अफसरों और पुलिसकर्मियों को गांव वालों के गुस्‍से का सामना करना पड़ा है। इस दौरान शरारती तत्‍वों ने जमकर पत्‍थरबाजी की है जिसमें कई पुलिसवालों को चोटें आई हैं। वहीं वाराणसी के एसपी सिटी दिनेश कुमार ने पुलिस पर हमला करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की बात कही है।

2010 से है विवाद
बताया गया कि चंदौली के पूर्व सपा सांसद के भांजे महेश जायसवाल की सोयेपुर में जमीन है जिसे लेकर 2010 से ही कुछ ग्रामीणों से विवाद चल रहा है। महेश जायसवाल के अनुसार वो जमीन उनकी है और उसपर अवैध कब्‍जा किया गया है।

पुलिस पर हमला
पुलिस का आरोप है कि शुक्रवार को कुछ प्रशासनिक अधिकारी और पुलिसकर्मी जब सोयेपुर पहुंचकर ग्रामीणों को जमीन को लेकर दिये गये कोर्ट के आदेश समझा रहे थे तभी एक महिला ने वहां मौजूद एक झोंपड़ी को आग के हवाले कर दिया। इसके मामला गरम हो गया और लोगों ने पुलिसवालों पर मिलीभगत का आरोप लगाते हुए हमला बोल दिया। इस दौरान जमकर पत्‍थरबाजी की गयी जिसमें कैंट थाने के कुछ पुलिसकर्मियों को चोटें भी आईं हैं।

कई थानों की पुलिस पहुंची
ग्रामीण ना सिर्फ महेश जायसवाल की गिरफ्तारी की मांग करने लगे बल्‍कि उन्‍होंने वाराणसी-आजमगढ़ मार्ग को भी बाधित करने की कोशिश की। मौके पर पहुंचे पुलिस के आलधिकारियों और कई थानों की फोर्स ने आक्रोशित ग्रामीणों को शांत कराया।

संबंधित खबर : सोयेपुर बवाल पर बोले महेश जायसवाल, मेरी हत्‍या की साजिश रच रहे दो मंत्री

स्‍थानीय लोगों का आरोप
स्‍थानीय लोगों का आरोप है कि पुलिस के एक अधिकारी ने वहां मौजूद कुछ महिलाओं के साथ ना सिर्फ अभद्र भाषा में बात की बल्‍कि एक आठ वर्षीय बच्‍चे का हाथ पकड़कर उसे झटका दे दिया, जिससे यहां लोगों का गुस्‍सा भड़क गया।

क्‍या बोले एसपी सिटी
इस संबंध में एसपी सिटी दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि सोयेपुर गांव में एक भूखंड है जिसको लेकर विवाद था। इसमें एक तरफ से 25 लोग हैं और एक तरफ से महेश जायसवाल हैं। इसको लेकर पहले भी विवाद था। राजस्व विभाग के लोग देख रहे थे इस मामले को इसमें एसडीएम् साहब भी अपनी रिपोर्ट लगा चुके हैं। उसी रिपोर्ट को लेकर नायब तहसीलदार ईशा दुहन और कैंट थानाध्यक्ष मौके पर जाकर वस्तुस्थिति से अवगत करवा रहे थे। इसी समय ग्रामीण उग्र हो गये और नायब तहसीलदार महोदया और कैंट थानाध्यक्ष और पुलिसकर्मियों से हाथापाई कर ली और अपने छप्परों में आग लगा कर पथराव शुरू कर दिया। जिससे अराजकता की स्थिति उत्पन्न हो गयी।

एसपी सिटी के अनुसार मौके पर भारी संख्‍या में पुलिस की तैनात की गई है। पूरे मामले की जांच की जा रही है। जिन-जिन लोगों ने कानून तोड़ा है उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

देखिये वीडियो : सोयेपुर में हुए बवाल पर क्‍या बोले एसपी सिटी

Comments
Loading...