Select Page

Category: धर्मक्षेत्र

बनारस में उतरा ‘आकाशमंडल’, देव दीपावली पर जगमग हुए सभी 84 घाट

बनारस। पौराणि‍क सप्‍तपुरि‍यों में से एक काशी नगरी में दैवीय भव्‍यता के साथ देव दीपावली का महापर्व मनाया गया। इस पुण्‍य अवसर पर जैसे ही आकाश में भगवान भास्‍कर अस्‍त हुए देवाधि‍देव महादेव काशी वि‍श्‍वनाथ के माथे की शोभा बढ़ाने वाले काशी के अर्द्धचंद्राकार घाटों की आठ कि‍लोमीटर लंबी श्रृंखला लाखों दीयों की रोशनी से जगमग हो गई। घाटों की छटा भी ऐसी मानो पूरा आकाशमंडल बनारस के घाटों पर उतर आया हो।   आदि‍केशव घाट से शुरू हुई दीयों की जगमगाहट भैंसासुर घाट, मेहता घाट, मणि‍कर्णि‍का घाट, राजेन्‍द्र प्रसाद घाट, दशाश्‍वमेध घाट, शीतला घाट, हरि‍श्‍चंद्र घाट, भदैनी घाट...

Read More

कार्तिक पूर्णिमा पर स्नान के लिए काशी के घाटों पर उमड़ा जन सैलाब

बनारस। कार्तिक पूर्णिमा के पावन पर्व पर वाराणसी के घाटों पर आस्था और श्रद्धा  का अभूतपूर्व नज़ारा नज़र आया भोर से ही श्रद्धालु काशी के पावन घाटों पर घाटों पर गंगा स्नान के लिए पहुच गए हैं  ! कार्तिक मास्  की पूर्णिमा को गंगा स्नान  का विशेष महत्व है।  बाबा विश्वनाथ की नगरी काशी में कार्तिक पूर्णिमा के दिन गंगा के किनारे आस्था का जन सैलाब नज़र आया। सूर्य की पहली किरण के साथ हर कोईं माँ गंगा में डुबकी लगा कर पुण्य कमाना चाहता है। धार्मिक मान्यताओं  के अनुसार आज का दिन विशेष फल दायक है आज के दिन जो...

Read More

गोपाष्टमी पर काशी में गौ माता का हुआ विधिवत पूजन, भक्तो ने मांगी मन की मुराद 

बनारस। बाबा विश्वनाथ की नगरी काशी में गोपाष्टमी के दिन सनातन धर्म का अनुपालन करते हुए गौ माता की पूजा की गयी। शहर कि गौशालाओं में सुबह से गौ माता की पूजा करने के लिए श्रद्धालू पहुंचने लगे थे।  सभी ने विधिवत गौ माता की पूजा कर उनसे आशीर्वाद प्राप्त किया। गौरतलब है कि आज ही के दिन पहली बार भगवान् कृष्ण गौ माता को घर गौचरण के लिए निकले थे। इस मौके पर बटुकों ने यात्रा भी निकाली।   इस सम्बन्ध में स्वामी करपात्री आदर्श गौशाला धर्मसंघ के जगजीतन पाण्डेय ने बताया कि कार्तिक शुक्ल पक्ष की अष्टमी माता के लिए समर्पित दिन होता है और इसके पीछे का कारण यह है कि आज ही के दिन भगवान् श्रीकृष्ण 6 वर्ष की अवस्था में पहली बार घर से गौचारण के लिए निकले थे।  तभी से यह दिन गौअष्ट्मी के रूप में जाना जाने लगा। आज के दिन गौ माता को नहलाकर उनका विशेष भव्य श्रृंगार किया जाता है और उनकी विधि विधान से पूजा की जाती है। आज के दिन जो भी मनोकामना हम गौ माता से करते हैं वो उसे अवश्य पूरा करती हैं।  इसी मनोकामना के साथ अज हम सब ने गौमाता का पूजन किया है।     स्वामी करपात्री आदर्श गौशाला, धर्म संघ के अल्लावा श्री काशी जीवदया विस्तारिणी गोशाला एवं पशुशाला में भी गौ पूजन किया गया।  जहां आस्थावानों ने गौ माता को चारा...

Read More

संतान रक्षा का पर्व छठ उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देकर हुआ संपन्न, बनारस में उमड़ा आस्था का सैलाब  

बनारस। संतान की रक्षा के लिए भगवान सूर्य की उपासना का पर्व छठ गंगा की गोद में उदयीमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही पूर्ण हुआ। छ्ठ को महापर्व इसलिए भी कहा जाता है क्योंकि सूर्य ही एकमात्र प्रत्यक्ष देवता हैं, और छठ पूजा का वर्णन पुराणों में भी मिलता है। अथर्ववेद में छठ पर्व का उल्लेख है जो इसकी महानता और प्राचीनता को दर्शाता है। यह एकमात्र पर्व है जिसमें उदयमान सूर्य के साथ-साथ अस्ताचलगामी सूर्य को भी अर्घ्य दिया जाता है। सप्तमी को प्रातः पुनः षष्ठी की संध्या की ही तरह ही पूर्व वत गंगा के घाटों के किनारे रात भर खड़े होकर उदीयमान...

Read More

नहाय-खाय से शुरू हुआ छठ महापर्व, DLW सूर्य सरोवर पर तैयार होने लगीं वेदियां 

बनारस। इस वर्ष छठ महापर्व की शुरुआत मंगलवार से नहाय खाय के साथ हो गई है। इसके साथ ही बनारस के विभिन्‍न सरोवरों, तालाबों, कुंडों और गंगा के घाटों पर वेदी बनाने का कार्य भी तेज़ी के साथ शुरू हो चला है। छठ की तैयारियों का जायजा लेने हम पहुंचे डीएलडब्‍ल्‍यू स्‍थित सूर्य सरोवर पर जहां व्रत के लिए तैयार महिलाएं वेदियां बनाते और उनका पूजन करते दिखीं। इस साल छठ का महापर्व 26 अक्टूबर  है। ऐसे में व्रती महिलाएं और उनके परिजन घाटों पर दिखने लगे हैं। तालाबों, सरोवरों, कुंडों और वाराणसी के घाटों पर लोग मिटटी से...

Read More

Subscribe Our Youtube Channel

Live Varanasi (Latest)

Recent Tweets

  • वाराणसी में नामी पैlivevns.in/2018/01/16/inc…ंटर पर INCOME TAX की रेड https://t.co/Unw6QNYcpf
  • मौनी अमावस्या पर गंगा में लlivevns.in/2018/01/16/hol…ी डुबकी, लोगों ने किया तिल का दान  https://t.co/pwAFzjdEna
  • रथयात्रा चौराहे पर चाइनीlivevns.in/2018/01/16/due…ा शिकार हुआ सिपाही, लगे 18 टांके https://t.co/XU0svU4iMI
  • अवैध कब्जे को लेकर भड़कें सोयlivevns.in/2018/01/16/vil…रामीण, सदर तहसील पर किया उग्र प्रदर्शन  https://t.co/Z9kThHWMnz
  • RT @upcoprahul: Hope you are not one in the ‘Deathfie’ & ‘Apathyfie’ league! Helping in an emergency will be a moment to remember even if…