बनारस। काशी हि‍न्‍दू वि‍श्‍ववि‍द्यालय में छात्राओं से छेड़छाड़ और उसके बाद हुए बवाल की आंच अभी ठंडी भी नहीं हुई कि‍ अब एक नये बखेड़े ने युनि‍वर्सि‍टी को गरमा दि‍या है। इस बार मामला वि‍देश छात्र से जुड़ा हुआ है। बताया गया कि‍ फि‍जी के छात्र से रैगिंग करने की कोशि‍श हुई। छात्र ने अपने साथ मारपीट कि‍ये जाने का आरोप भी अपने सीनि‍यरों पर लगाया है।

 

मामला सामने आने के बाद वि‍श्‍ववि‍द्यालय के सुरक्षा एवं प्रशासनि‍क अफसरों में हड़कंप मच गया।आनन-फानन में लंका थाने में युवकी की तहरीर पर चार लोगों के खि‍लाफ मुकदमा दर्ज करा दि‍या गया है। पुलि‍स मामले में कार्रवाई की बात कह रही है। इसके अलावा पीड़ि‍त युवक की शि‍कायत पर एंटी रैगिंग सेल को भी शि‍कायत भेज दी गई है।

 

वि‍स्‍तृत जानकारी के अनुसार फि‍जी नि‍वासी एलएलबी के छात्र मुनीस क्रि‍सल का आरोप है कि‍ 13 अक्‍टूबर को लाल बहादुर शास्‍त्री छात्रावास में रहने वाले कुछ सीनि‍यर छात्रों ने उसके साथ रैगिंग की और वि‍रोध करने पर मारा-पीटा। इस बात की शिकायत पीड़ि‍त छात्र की ओर से प्रॉक्टोरियल बोर्ड और फि‍जी दूतावास में की गई। वहीं छात्र का आरोप है कि‍ शि‍कायत के बाद उसके साथ दुबारा मारपीट हुई है। उसने बताया कि‍ वह काफी डरा हुआ है।

 

घटना प्रकाश में आने के बाद वि‍श्‍ववि‍द्याल प्रशासन ने कार्रवाई शुरू कर दी है। बीएचयू की नवनि‍युक्‍त चीफ प्रॉक्‍टर रायना सिंह ने बताया कि‍ छात्र की ओर से शि‍कायत मि‍ली है, जि‍से तत्‍काल संज्ञान में लि‍या गया है। चीफ प्रॉक्‍टर के अनुसार एंटी रैगिंग सेल और दूतावास को जानकारी दे दी गई है। साथ ही लंका थाने में भी छात्र की ओर से तहरीर दे दी गई है।

 

वहीं इस संबंध में लंका थाने के एसओ संजीव मि‍श्रा ने बताया कि‍ बीएचयू प्रशासन की तरफ से वि‍देश छात्र के बाबत शिकायत मि‍ली है। जि‍समें हमने चार लोगों के खि‍लाफ मुकदमा दर्ज कर लि‍या है। आगे की कार्रवार्इ की जा रही है।
Comments