भाजपा ने फिर लहराया काशी में जीत का परचम, मृदुला जायसवाल बनी महापौर  

बनारस।  पिछले 22 सालों से वाराणसी के महापौर पद पर काबिज़ पार्टी भाजपा ने एकबार फिर जनता का विश्वास जीत लिया।  आज आये निकाय चुनाव के परिणाम में भाजपा की मृदुला जायसवाल ने अपनी निकटम प्रतिद्वंदी कांग्रेस की शालिनी यादव को 78 हज़ार  मतों के अंतर से पराजित कर मेयर की कुर्सी पर कब्ज़ा जमा लिया।  इस जीत के साथ ही भाजपा के समर्थक पहाड़िया मंडी परिसर के बाहर ढोल नगाड़ों पर नाचने लगे और एक दुसरे को बधाई देने लगे। मृदुला जायसवाल ने अपनी जीत को जनता के विश्वास की जीत बताया।

26 नवम्बर को नगर निगम चुनाव के लिए डाले गये मतों की गणना आज संपन्न हुई।  जिसमे भाजपा की मृदुला जायसवाल 192188 मत पाकर पहले स्थान पर रही।  वहीं दुसरे नम्बर पर कांग्रेस की शालीनी यादव रहीं जिन्हें 113345 मत मिले।  मृदुला जायसवाल पर जनता का भरोसा इतना ही था कि हार का अंतर 78 हज़ार मतों से अधिक का रहा।

 

जीत के बाद चुनाव अधिकारी ने मृदुला जायसवाल को प्रमाण पत्र दिया।  इस मौके पर मंडी समिति के सामने भाजपा समर्थकों ने जमकर धुल ताशे पर जमकर नाचे। मृदुला जायसवाल ने जीतने के बाद कहा कि यह मेरी जीत नहीं है यह जनता के विश्वास की जीत है। जनता की सभी मूलभूत सुविधाओं का ख्याल रखा जाएगा। उन्होंने एक प्रश्न के जवाब में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जादू सिर्फ हमारे यहाँ नहीं अपितु पूरे विश्व में है।