SSP ने एक काम बोला, वो भी ठीक ढंग से नहीं कर सके चेतगंज के दरोगागण 

बनारस। जिले की सबसे महत्‍वपूर्ण कोतवालियों में शुमार चेतगंज थाना एसएसपी आरके भारद्वाज के औचक निरीक्षण में फेल साबित हो गया। महाशिवरात्रि से एक दिन पहले चेतगंज कोतवाली का अचानक निरीक्षण करने पहुंचे वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक के सामने ही कई दरोगा और सिपाहियों की पोल खुल गयी।

पूरे थाने को किया चेक 
पुलिस कप्‍तान आरके भारद्वाज सोमवार को अचानक चेतगंज कोतवाली पहुंच गये। थाने में एसएसपी को देख वहां कार्यरत पुलिसकर्मी भी सकपका गये। इसके बाद एसएसपी ने मालखाने से लेकर लॉकअप तक तथा बैरक से लेकर कार्यालय तक सबकुछ एक-एककर खंगाल डाला।

मातहतों को दिया टास्‍क
एसएसपी आरके भारद्वाज ने थाने के मालखाने में रखी थ्री नॉट थ्री राइफलों को खुद चेक किया और मालखाना अधिकारी से हथियारों के रखरखाव के बारे में जानकारी ली। इसके बाद शुरू हुई एसएसपी की क्लास। इसमें प्रभारी निरीक्षक सहित सभी दरोगाओं को उनकी स्वयं की पिस्टल को खोलकर तय समय में पुनः जोड़ना था। देखने वाली बात यह रही कि मुरादाबाद पुलिस अकादमी में बाकायदा ट्रेनिंग लेने वाले दरोगा-गण एसएसपी के दिये टास्‍क को भी ठीक ढंग से पूरा नहीं कर सके।

फिर खुद बने ट्रेनर
अपने मातहतों को कमजोर पड़ता देख एसएसपी ने तुरंत पिस्‍टल उठाई और उसे तय समय में खोलकर तथा फिर जोड़कर दिखाया। साथ ही ये करने से पहले इस बात की हिदायत भी दी कि ध्‍यान से देखिये, प्रैक्‍टिस कीजिए और जल्‍द से जल्‍द सीख लीजिए।

दीवान जी डंटा गये 
वहीं इस दौरान थाने के कार्यालय में रिपोर्टों की जांच करते समय उन्होंने लापारवाही बरतने पर मौजूद दीवान को फटकार लगाई तथा थानाध्‍यक्ष को जल्‍द से जल्‍द व्‍यवस्‍थाओं को दुरुस्‍त करने की चेतावनी भी दी।

बनाये जायेंगे नये थाने
जनपद के कई थाने जर्जर अवस्‍था में पहुंच गये हैं। इस बात की तस्‍दीक आज खुद एसएसपी ने चेतगंज थाने का मुआयना करके किया। ब्रिटिशकालीन भवनों में चल रहे थाने हर वक्‍त यहां तैनात पुलिसकर्मियों के लिये खतरा बने हुए हैं। इसे देखते हुए मीडिया द्वारा पूछे गये सवाल पर वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 14 थानों के भवन पुराने हो चुके हैं, पीडब्‍ल्‍यूडी को इसका आंकलन करने के लिये कहा गया है। विभाग आंकलन करके हमें देगा, जिसे हम पुलिस हेड क्‍वार्टर भेजेंगे वहां से आदेश होते ही इन थानों के लिये नये भवन बनवाए जाएंगे।