‘मोदीराज है ‘जंगलराज’, 56 इंची सीना भी कागजी’, बनारस में बोले गुलाम नबी आजाद

बनारस। ”मोदी सरकर में ना तो महिलाएं सुरक्षित हैं ना आम इंसान, महंगाई इतनी कभी नहीं थी, कश्‍मीर में हालात ठीक नहीं है, अर्थव्‍यवस्‍था चौपट हो गई।” कुल मिला जुलाकर प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के गढ़ बनारस से ही कांग्रेस के सीनियर लीडर ने केंद्र सरकार की तुलना ‘जंगलराज’ से कर दी है। आजाद सोमवार को वाराणसी में कांग्रेस मंडलीय कार्यकर्ता सम्‍मेलन में शिरकत करने पहुंचे थे।

परेशान करने वाली सरकार
सम्‍मेलन के बाद मीडियाकर्मियों के सवालों का जवाब देते हुए गुलाम नबी आजाद ने केंद्र सरकार की हर योजनाओं और कार्यों को विफल करार दिया है। उन्‍होंने केंद्र सरकार को परेशान करने वाली सरकार बताया है। यही नहीं मोदी सरकार की तुलना कागजी पहलवान से करते हुए गुलाम नबी आजाद ने प्रधानमंत्री के ’56 इंच के सीने’ पर भी जुबानी मुक्‍का मारा है।

कागजी है सीना
जम्‍मू-कश्‍मीर में सीआरपीएफ कैंप हुए हुए आतंकी हमले पर पूछे गये सवाल के जवाब में गुलाम नबी आजाद ने मोदी सरकार को कमजोर सरकार बताया। उन्‍होंने कहा, ”जब केंद्रीय सरकार कमजोर होगी तो ऐसे हमले होते रहेंगे।” प्रधानमंत्री के 56 इंच के सीने को भी गुलाम नबी आजाद ने कागजी सीना बताया है।

सबसे कमजोर सरकार
बकौल कांग्रेस नेता, ”जम्मू-कश्मीर में भाजपा और मोदी की सरकार में जितने हमले हुए हैं उतने कभी भी नही हुए। इससे कमजोर सरकार 70 साल में नही देखी है।”

हर कोई असुरक्षित
गुलाम नबी आजाद यहीं तक नहीं रुके उन्‍होंने केंद्र सरकार की तुलना ‘जंगलराज’ से करते हुए कहा कि इस सरकार में कोई भी सुरक्षित नहीं है। उन्‍होंने कहा, ”ना तो दलित, न अल्‍पसंख्‍यक और ना ही महिलाएं, मोदी सरकार में कोई सुरक्षित नहीं है।”

हर मोर्चे पर फेल
मोदी सरकार हर मोर्चे पर फेल साबित हुई है। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद के शब्‍दों में, ”बीजेपी की सरकार में बेरोजगारी और महंगाई बढ़ी है। किसान और नौजवानों के मुद्दे पर ये सरकार पूरी तरह से विफल रही है।” उन्‍होंने मोदी सरकार की तुलना टेलीविजन सरकार से की है।

पिपलानी कटरा स्‍थित नागरी नाटक मंडली सभागार में आयोजित कांग्रेस के मंडलीय कार्यकर्ता सम्‍मेलन में पार्टी के वरिष्‍ठ नेता और राज्‍यसभा सांसद गुलाम नबी आजाद के अलावा प्रदेश अध्‍यक्ष राज बब्‍बर, पूर्व सांसद राजेश मिश्रा, पूर्व विधायक अजय राय, शालिनी यादव, राघवेन्‍द्र चौबे, प्रजानाथ शर्मा, रामनगर पालिका की चेयरमैन सहित भारी संख्‍या में कांग्रेसी नेता और कार्यकर्ता मौजूद रहे।