गर्लफ्रेंड का शौक पूरा करने के लिए करते थे लूट, वाराणसी क्राइम ब्रांच ने दबोचा

0
32

बनारस। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वाराणसी द्वारा शहर में हो रही लूट, चोरी, मोबाइल व चेन स्नैचिंग, छिनैती की घटनाओं के रोकथाम व ईनामिया व वांछित अपराधियों के विरूद्ध चलाये जा रहे अभियान के क्रम में शनिवार को पुलिस अधीक्षक अपराध ज्ञानेन्द्र नाथ प्रसाद की टीम को दो शातिर लुटेरों को गिरफ्तार करने में अहम सफलता प्राप्त हुई है।

लुटेरों के कब्जे से 01 अदद तमंचा .315 बोर, 01 अदद जिन्दा कारतूस .315 बोर, 01 अदद तमंचा 12 बोर, 01 अदद जिन्दा कारतूस 12 बोर व 20 अदद महंगे मोबाइल सेट जिनकी कीमत लगभग 3 लाख रूपये है। हीरो पैंशन प्रो मोटर साईकिल बरामद किया गया है।

प्रभारी क्राइम ब्रान्च विक्रम सिंह मय फोर्स शहर में हो रही लूट, चोरी, मोबाइल व चेन स्नैचिंग, छिनैती की घटनाओं के रोकथाम व वांछित, पुरस्कार घोषित अपराधियों के तलाश में कचहरी चौराहे पर मौजूद थे। इसी बीच जरिए सर्विलांस व मुखबिर खास से सूचना मिली कि देशी शराब के ठेका के बगल छोटा लालपुर के पास जो मोबाइल लूट की घटना हुई है उससे संबन्धित लुटेरे वरुणा एन्कलेव सेंट्रल जेल रोड के पास एक काले रंग के पैंसन प्रो गाड़ी से छिनैती की घटना को अंजाम देने वाले हैं।

इस सूचना पर विश्वास कर तत्परता व तेजी दिखाते हुए बरूणा एन्कलेव सेंट्रल जेल रोड की ओर प्रभारी क्राइम ब्रान्च मय फोर्स पहुंचे और घेराबंदी करके दो बदमाशों को पकड़ लिया जबकि दो अन्य बदमाश भागने में सफल रहे। गिरफ्तार बदमाशों ने अपना नाम क्रमशः नन्नकू उर्फ आशीष गौड़ व अतुल सिंह बताया।

प्रेमिका पर खर्च करने के लिए करते है चोरी
पुलिस द्वारा सख्ती से पूछताछ करने पर दोनों अभियुक्तों ने बताया की हमलोग महंगे शौक व गर्लफ्रेंड के खर्चे के लिए चोरी करते हैं।

चोरी की कई घटनाओं में थे शामिल
आरोपियों के अनुसार वे लोग कुछ दिन पूर्व छोटा लालपुर में देशी शराब के पास एक व्यक्ति मोबाइल से बात करते हुए जा रहा था, उससे मोबाइल छिन लिया तथा पाण्डेयपुर के पास पुलिस लाइन तिराहे से, सेन्ट्रल जेल रोड पर भी कई लोगों के मोबाइल व पर्स छीने हैं। युवकों ने बताया कि हम लोग शहर के विभिन्न स्थानों पर घूमते रहते हैं और अगर कोई व्यक्ति मोबाइल से बात करता हुआ पैदल या साईकिल से जाता हुआ दिखाई देता है, तो मौका पाकर झप्पटा मारकर मोबाइल छीन लेते हैं और तेजी से बाइक चलाकर भाग जाते है।

इसके साथ ही लुटेरों ने बताया की राजू व सुल्तान के साथ मिलकर वे चोरियां करते हैं। हम अक्सर रात में घूमते हैं और मौका देखकर किसी के घर में घुस जाते हैं और चोरी कर लेते हैं। लूट व चोरी के सामान को बेचकर पैसे मिलते हैं, उसको आपस में बांट लेते हैं। लूट के मोबाइलों को हमलोग सस्ते दामों में बेचकर अपनी गर्लफ्रेन्ड के शौक पूरा किया करते हैं। कई बार लूट करते समय पब्लिक दौड़ाती है तो हम लोग तमंचा दिखाकर डराकर भाग जाते हैं।

बरामदगी 
01 तमंचा .315 बोर, 01 जिन्दा कारतूस .315 बोर।
01 तमंचा 12 बोर, 01 जिन्दा कारतूस 12 बोर।
20 महंगे मोबाइल सेट जिनकी कीमत लगभग 03 लाख रूपये है।
हीरो पैंशन प्रो मोटर साईकिल UP65 BA6545 ।

आपराधिक इतिहासः-
मु.अ.सं.-571/18 धारा-392 भादवि थाना-कैंट,जनपद-वाराणसी ।
मु.अ.सं.-572/18 धारा-379 भादवि थाना-कैंट,जनपद-वाराणसी ।
मु.अ.सं.-573/18 धारा-380 भादवि थाना-कैंट, जनपद-वाराणसी ।
मु.अ.सं.-211/17 धारा-379 भादवि थाना-चौबेपुर, जनपद-वाराणसी ।
मु.अ.सं.-581/18 धारा-3/25 आर्म्स एक्ट थाना-कैंट,जनपद-वाराणसी ।
मु.अ.सं.-582/18 धारा-3/25 आर्म्स एक्ट थाना-कैंट,जनपद-वाराणसी ।

गिरफ्तारी करने वाली पुलिस टीम
उप निरीक्षक विक्रम सिंह (प्रभारी क्राइम ब्रान्च), उप निरीक्षक राकेश सिंह, हेड कॉन्स्टेबल श्याम लाल गुप्ता (सर्विलांस सेल), कॉन्स्टेबल सुमन्त सिंह, कॉन्स्टेबल रामभवन यादव, कॉन्स्टेबल पुन्देव सिंह, कॉन्स्टेबल सुरेन्द्र मौर्य, कॉन्स्टेबल विवेकमणि त्रिपाठी, कॉन्स्टेबल चन्द्रसेन सिंह, कॉन्स्टेबल कुलदीप सिंह, कॉन्स्टेबल सुनील राय, कॉन्स्टेबल अनुग्रह वर्मा।

देखें खबर से संबंधित वीडियो