बनारस। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी का दो दिसवीय पूर्वांचल दौरा शुरू हो चुका है। शनिवार दोपहर बाबतपुर एयरपोर्ट पर पहुंचने के बाद प्रधानमंत्री आजमगढ़ पहुंचे। यहां मन्दुरी हवाई पट्टी से प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी देश के सबसे लंबे एक्‍सप्रेस-वे का शिलान्‍यास किया। इस दौरान उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक और सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ भी प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के साथ मौजूद रहे। इस योजना के शुभारंभ के साथ ही पूर्वी उत्तर प्रदेश के जिलों को प्रधानमंत्री ने विकास का नया सन्देश दिया है।

जनता ने पूरे उत्‍साह से किया पीएम का स्‍वागत
भगवा और सफ़ेद कपड़ों से ढके आयोजना स्थल पर सुबह से ही भीड़ जुटनी शुरू हो गयी थी। दोपहर बाद निर्धारित समय पर प्रधानमंत्री का उड़नखटोला मंदुरी हवाई पट्टी पर उतरा तो जय श्रीराम के जय घोष से आजमगढ़ की जनता ने उनका स्वागत किया। मंच पर पहुँचने के बाद जनता का अभिवादन कर प्रधानमंत्री ने रिमोट द्वारा मंदुरी से 5 किलोमीटर दूरी से गुजरने वाली लोकपरक योजना पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का शिलान्यास किया। इसी के साथ ही देश के सबसे लम्बे एक्सप्रेस वे का निर्माण कार्य शुरू हो गया।

विज्ञापन

बनेगा भारत का सबसे लंबा एक्‍सप्रेस वे
प्रधानमंत्री ने जिस एक्‍सप्रेस- वे का उद्घाटन किया है, यह देश का सबसे लंबा एक्सप्रेस वे है। लखनऊ से गाजीपुर तक बनने वाले इस एक्सप्रेस वे की लम्बाई 354 किलोमीटर होगी। यह एक्सप्रेस वे लखनऊ के चंद्सराय गाँव से शुरू होकर गाजीपुर के हैदरिया गांव में समाप्त होगा। इसके बनने के बाद गाजीपुर से लखनऊ की दूरी मात्र 4 से 5 घंटे में पूरी हो जाएगी।

9 जिलों को जोड़ेगा एक्‍सप्रेस वे
इस 6 लेन एक्सप्रेस वे को बनाने में 17 हज़ार करोड़ रूपये खर्च होंगे। इस एक्सप्रेस-वे को पूरा करने के लिए 2 साल 6 महीने का समय निर्धारित किया गया। यह एक्‍सप्रेस-वे लखनऊ, बाराबंकी, अमेठी, अंबेडकरनगर, फैजाबाद, सुल्तानपुर, आजमगढ़, मऊ से होता हुआ गाजीपुर तक जाएगा।

देखें कार्यक्रम का वेबकास्‍ट, वीडियो ब्राउजर लोड होने तक कृपया थोड़ी प्रतीक्षा करें

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।