पिण्डरा/विधि संवाददाता धनंजय शर्मा


नारस। लालबहादुर शास्त्री अन्‍तरराष्‍ट्रीय हवाईअड्डा वाराणसी पर एयरपोर्ट के निदेशक अनिल कुमार राय के नेतृत्व में ”भारत को स्वच्छ बनाना है” के स्लोगन से सनबीम स्कूल के बच्‍चों ने लघु नाटक का मंचन किया। इस दौरान बच्‍चों ने स्वच्छता का संदेश देते हुए हवाईअड्डे पर आने वाले यात्रियों समेत वहां मौजूद कर्मचारियों को अपने-अपने क्षेत्र में स्‍वच्‍छता दूत बनने का निवेदन किया।

विज्ञापन

बच्‍चों के लघु नाटक से अभिभूत होकर एयरपोर्ट निदेशक अनिल कुमार राय ने कहा कि इस तरह के प्रायोजनों से लोगों में स्‍वच्‍छता को लेकर जागरूकता बढ़ती है। एयरपोर्ट अथारिटी लगातार स्‍वच्‍छता को लेकर लोगों को जागरूक करने की कोशिश में जुटा है। जिस तरह से बाबतपुर एयरपोर्ट को देश में स्‍वच्‍छता को लेकर पहचान मिली है, हम चाहते हैं कि हमारा वाराणसी शहर भी स्‍वच्‍छ, स्‍वस्‍थ्‍य और सुंदर बने।

बता दें कि हाल ही में भारत के 20 एयरपोर्ट का स्वच्छता के विषय पर सर्वे कराया गया था, जिसमे वाराणसी का लाल बहादुर शास्‍त्री अन्‍तरराष्‍ट्रीय हवाईअड्डा को प्रथम स्‍थान प्राप्‍त हुआ था। एयरपोर्ट के निदेशक अनिल कुमार राय ने उम्‍मीद जाहिर की कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के प्रयासों से वाराणसी ही नहीं पूरे देश की जनता में स्‍वच्‍छता को लेकर जिम्‍मेदारी की भावना बढ़ी है और ये कारवां दिनों-दिन बढ़ता ही जा रहा है।

फोटो सौजन्‍य से योगेश सी. भूषण

निदेशक ने आशा व्‍यक्‍त करते हुए कहा कि जल्‍द ही वाराणसी पूरे देश के स्‍वच्‍छता के मामले में नंबर एक की रैंकिंग पर होगा। ज्‍यादा से ज्‍यादा लोग स्‍वच्‍छता को लेकर गंभीर हों इसके लिये हवाईअड्डा प्रशासन की ओर से लगातार जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में आज बच्‍चों ने लोगों को साफ सफाई का संदेश दिया है।

इस अवसर पर सीआईएसएफ के जवान व एयरपोर्ट के सभी अधिकारियों व कर्मचारियो ने भाग लिया।

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।