अगस्त तक अगर नहीं भेजा बच्चों को स्कूल तो माता पिता को भेज दूंगा जेल : ओमप्रकाश राजभर

0
28

बनारस। सूबे के कैबिनेट मिनिस्टर ओमप्रकाश राजभर का विवादों के साथ चोली दामन का साथ लगता है। सोमवार को चोलापुर के रजला में कांग्रेस महासचिव सतीश चौबे के पिता रामप्रवेश चौबे की पुण्यतिथि समारोह में बतौर मुख्य अथिति पहुंचे कैबिनेट मिनिस्टर ने कार्यक्रम के मंच से मौजूदा सरकार को जमकर लताड़ा और कांग्रेस के कामों की सरहाना की।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के ज़माने में बनी सड़कों को चौड़ी कर मौजूदा सरकार वह वाही लूट रही है। वहीं उन्होंने वहां उपस्थित जन समुदाय को भी उन्होंने अर्दब में लेते हुए कहा कि जिसने भी अपने बच्चों का स्कूल में अगस्त तक पंजीकरण नहीं करवाया उन्हें जेल भिजवा दूंगा।

सूबे के कैबिनेट मिनिस्टर सोमवार को दोपहर बाद चोलापुर ब्लाक के रजला में स्थित कांग्रेस महसचिव सतीश चौबे के स्कूल में बतौर मुख्य अथिति पहुंचे मौजूदा सरकार के कैबिनटे मिनिस्टर ओमप्रकाश राजभर पूरी तरह से कांग्रेस के रंग में रेंगे दिखे। मंच पर कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष राजेश मिश्रा और सतीश चौबे के साथ बैठे कैबिनेट मिनिस्टर ने अपने वक्तवय में मौजूदा सरकार को जमकर लताड़ लगायी।

कांग्रेस शासन काल के बंद कल कारखानों को शुरू करवाए सरकार
कैबिनेट मिनिस्टर ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस के शासन काल में सबसे ज़्यादा कल कारखाने लगे। ये कल कारखाने मौजूदा सरकार में बंद पड़े हैं सरकार को चाहिए कि इन्हे शुरू करवाएं। सपा शासन में भी ये बंद रहे और भाजपा में भी बंद है। हमें इन्वेस्टर्स की ज़रुरत नहीं है। सरकार इन कल कारखानो को शुरू करवा दे खुद ही रोज़गार हो जाएगा, सरकार के ख़ज़ाने में कोई कमी नहीं है।

उन्होंने केंद्र और राज्य सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा की लखनऊ से लेकर वाराणसी तक की सड़कें कांग्रेस के शासन काल में बनी थी, जिसे चौड़ा करवाकर मौजूदा सरकार वाह वाही लूट रही है।

नहीं भेजा स्कूल तो भेज दूंगा जेल
कैबिनेट मिनिस्टर ने विद्यालय के कार्यक्रम में बोलते हुए कहा कि अगस्त तक अगर किसी ने भी अपने बच्चे का रजिस्ट्रेशन स्कूल में नहीं कराया तो उसे जेल भेज दूंगा। सरकार ने सभी की शिक्षा मुफ्त की है तो हमें शिक्षित होकर देश और अपना विकास करने के लिए अग्रसर होना होगा।

नहरों में पानी के लिए करूंगा सिचाई मंत्री का घेराव
मानसून के बाद में नहरों में पानी की समस्या के सवाल पर कैबिनेट मिनिस्टर ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि मुझे किसानो की तरफ से शिकायत मिली है। ज़िले की ग्राम पंचायतों से गुज़र रही नहरों में जिन जिन ग्राम पंचायतों में नहरें सूखी है वहां के प्रधान मुझे लिख कर दें मैं लखनऊ में सिचाई मंत्री के आवास का घेराव करूंगा और जब तक नहरों में तेल तक पानी नहीं आएगा मै नहीं मानूंगा।

मंत्री के सामने विधायक की खिचाई
इस दौरान कांग्रेस महासचिव सतीश चौबे ने अजगरा विधायक कैलाश सोनकर जो कैबिनेट मिनिस्टर ओमप्रकाश राजभर की पार्टी के एक मात्र वाराणसी जनपद के विधायक की जमकर आलोचना की। इस दौरान मंत्री ओमप्रकाश मंद मंद मुस्कुराते रहे। सतीश चौबे ने विधायक कैलाश सोनकर के बारे में बात करते हुए कहा कि लोगों का आरोप है कि विधायक क्षेत्र में नहीं आते लेकिन क्या करें अस्वस्थ जो हैं। वहीं उन्होंने विधायक को नसीहत देते हुए कहा कि जिस प्रकार ओमप्रकाश जी अपनी आवाज़ प्रदेश के लिए उठा रहे हैं वैसे ही आप अपने क्षेत्र के लिए उठाइये।

विधायक पर डेस्क बेचने का आरोप
सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अजगरा विधायक कैलाश सोनकर के ऊपर लोगों ने मंत्री के सामने आरोप लगाए कि उन्होंने विद्यालयों के डेस्क और बेंच के लिए अपने निधि से पैसे दिए थे। लाखों रूपये का निधि विद्यालय के खाते में आया था पर शिक्षा विभाग के लोग इस पैसे को वापस रहे हैं पर मंत्री ओमप्रकाश ने कहा कि मुझे इस बारे में कुछ नहीं पता।

वहीं विधायक कैलाश नाथ सोनकर ने कहा कि जिस कंपनी को स्कूल में डेस्क बेंच लगावाने का कार्य दिया था उसने सिर्फ 60 प्रतिशत कार्य ही पूरा किया है। भेजी गयी राशि का दुरुपयोग न हो इसलिए उसे वापस लिया जा रहा है।

कांग्रेस महासचिव के स्कूल में आयोजित हुए इस कार्यक्रम में कांग्रेसियों के बीच कांग्रेस का गुणगान कर रहे कैबिनेट मिनिस्टर ओमप्रकाश राजभर चर्चा का विषय बने हुए हैं। उन्होंने कांग्रेस से किसी भी तरह के गठबंधन से इंकार भी नहीं किया और ना ही हामी भरी बस मंद मंद मुस्कुराते रहे। वहीं समारोह में मौजूद कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ राजेश मिश्रा ने कहा कि मै तो इस सभा में बस मंत्री ओमप्रकाश राजभर को सुनने आया हूं