शहीद सैनि‍कों पर Live VNS के सवाल का PM मोदी के मंत्री ऐसे देंगे जवाब, उम्‍मीद नहीं थी

नारस। बीएसएफ के हेड कांस्‍टेबल शहीद नरेन्‍द्र कुमार के शव की दुर्गति‍ करने की सजा पाकि‍स्‍तान को कि‍स तरह दी जाए और मोदी सरकार इस पूरे मामले पर क्‍या रुख अख्‍ति‍यार करती है ये तो आने वाला वक्‍त ही बताएगा। इस नृशंस और देशवासि‍यों को गुस्‍से से भर देने वाली घटना का ज्‍वार अभी उतरा भी नहीं था कि‍ जम्‍मू-कश्‍मीर पुलि‍स के तीन जवानों को भी आतंकि‍यों ने मौत के घाट उतार दि‍या है।

वहीं जब इस संबंध में मोदी सरकार के कैबि‍नेट मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी से सरकार के रुख के बारे में पूछने की कोशि‍श की गयी तो बि‍ना कोई जवाब दि‍ये अपनी कार का दरवाजा बंद कि‍या और मीडि‍या से बचते हुए चलते बने। इतने गंभीर वि‍षय पर मोदी सरकार के वरि‍ष्‍ठ मंत्री इस तरह से जवाब देंगे इस बात का अंदाजा हमें नहीं था।

दरअसल, शुक्रवार को इलाहाबाद में एक नि‍जी कार्यक्रम में शामि‍ल होने के लि‍ये फ्लाइट से वाराणसी एयरपोर्ट पहुंचे केंद्रीय अल्‍पसंख्‍यक कल्‍याण मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी से हवाईअड्डे के पोर्टि‍को में Live VNS ने सैनि‍कों के मामले पर बात करनी चाही। हैरानी इस बात पर हुई कि‍ सैनि‍कों के मामले में बड़ी बड़ी बातें करके सत्‍ता में आयी सरकार के जि‍म्‍मेदार मंत्री भी मीडि‍या के सवालों के सामने नि‍रुत्‍तर हो गये।

Live VNS ने जब बीएसएफ के शहीद जवान नरेन्‍द्र कुमार और जम्‍मू कश्‍मीर के तीन स्‍पेशल पुलि‍सकर्मि‍यों की मौत के बारे में सवाल कि‍या तो उन्‍होंने पूरा सवाल सुनने के बाद अपनी कार का दरवाजा बंद कि‍या और वहां से नि‍कल लि‍ये।

सवाल ये उठता है कि‍ लगातार देश के सैनि‍कों के साथ पाकि‍स्‍तानी फौज और उसके पाले हुए आतंकी बद्सलूकी कर रहे हैं, जि‍ससे देश में गुस्‍सा बढ़ रहा है। वहीं मोदी कैबि‍नेट के जि‍म्‍मेदार मंत्री इस बारे में कुछ भी कहने से बचते दि‍खें तो सरकार की मंशा पर सवाल उठना लाजमी है।

देखें वीडि‍यो, कैसे मीडि‍या के सवालों से बचते दि‍खे मुख्‍तार अब्‍बास नकवी