नारस। अविरल-निर्मल गंगा के लिये सौ से भी ज्‍यादा दिनों से अनशनरत स्‍वामी सानंद के निधन से सभी गंगा प्रेमी आहत हैं। ऐसे में वाराणसी में प्रतिदिन सुबह शाम होने वाली गंगा आरती पर भी स्‍वामी सानंद के निधन को लेकर शोक का वातावतरण साफ दिखायी दिया।

शुक्रवार को दैनिक गंगा आरती कराने वाली संस्‍था गंगा सेवा निधि की ओर से दिवंगत स्‍वामी सानंद को श्रद्धांजलि देने के लिये विशेष तौर पर मां गंगा की आरती की गयी। इस दौरान अर्चकों द्वारा मां गंगा में दीपदान करके स्‍वामी सानंद को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की गयी।

विज्ञापन

दशाश्वमेध घाट पर आरती से पूर्व मोक्ष दायनी माँ गंगा में दीप दान कर स्‍वामी सानंद की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की गयी व गंगा आरती में देश-विदेश से शामिल होने पहुंचे हजारों की सख्या में श्रद्धालुओं ने भी नम आंखों से दो मिनट का मौन रख गंगापुत्र स्‍वामी सानंद को अपनी ओर से विनम्र श्रद्धाजलि दी।

इस दौरान गंगा सेवा निधि के अध्यक्ष सुशांत मिश्रा ने कहा कि मां गंगा अविरल और निर्मल हों इसके लिये लोगों को अपनी जिम्‍मेदारियों को समझना चाहिये, मां गंगा की स्‍वच्‍छता के लिये जनता को ही आगे आना होगा। सुशांत मिश्र ने अपने पिता स्‍व. सत्‍येन्‍द्र मिश्र को याद करते हुए कहा कि 1991 में उनके पिता ने मां गंगा की स्‍वच्‍छता और निर्मलता को ध्‍यान में रखते हुए ही इस गंगा आरती की शुरुआत की थी। गंगा की स्‍वच्‍छता हर भारतीय का कर्तव्‍य होना चाहिए। इस दौरान गंगा सेवा निधि के सचिव हनुमान यादव ने भी अपनी संवेदनाए व्यक्त की।

देखें वीडियो

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।