चुनाव जीतने और पिस्‍टल लाइसेंस के लिए हुई थी बुज़ुर्ग की ह्त्या, वाराणसी पुलिस ने किया पर्दाफाश

0
70

नारस। बीते दिनों चोलापुर थानाक्षेत्र में हुई बुज़ुर्ग शंकर मौर्या की ह्त्या का वाराणसी पुलिस ने बुधवार को राजफाश कर दिया। इस हत्याकांड में मुख्य साजिशकर्ता कटारी ग्राम का प्रधान ही निकला। इसी के घर में शंकर मौर्य वर्षों से रहता था। पुलिस के अनुसार ग्राम प्रधान ने खुद के लिए पिस्टल लाइसेंस, ग्राम प्रधानी में पुन: जीत हासिल करने, बुजुर्ग की जमीन कब्‍जा करने और गांव में धाक बनाने के लिये सुपारी देकर करायी थी।

ग्राम प्रधान सहित तीन आरोपी गिरफ्तार
ग्रामीण पुलिस अधीक्षक अमित कुमार ने बुधवार को मीडिया के सामने आरोपी को पेश किया। बताया गया कि साजिशकर्ता ने सिर्फ पैर में गोली मरने के लिए सुपारी दी थी, लेकिन शराब के नशे में धुत भाड़े के हत्यारों ने कई राउंड फायर करते हुए बुज़ुर्ग को मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने इस घटना में शमिल दो भाड़े के हत्यारों और मुख्य साजिशकर्ता ग्राम प्रधान को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं एक अभियुक्त अभी भी फरार है, जिसकी तलाश में पुलिस लगी हुई है।

22 सालों से घर में रह रहा था बुजुर्ग
इस सम्बन्ध में एसपी ग्रामीण अमित कुमार ने पुलिस लाइन सभागार में बताया कि बीते दिनों चोलापुर थानाक्षेत्र के कटारी गांव में 55 वर्षीय शंकर मौर्या की गोली मारकर ह्त्या कर दी गयी थी। मारा गया व्यक्ति विगत 22 वर्षों से ग्राम प्रधान राजू कन्नौजिया के घर पर ही रहता था और मज़दूरी का काम करता था। इस हत्याकांड के बाद कई टीमें इसके खुलासे के लिए लगी हुई थी।

पुलिस को मुखबिर से मिली सूचना
क्राइम ब्रांच की टीम और चोलापुर पुलिस इस ह्त्या में शामिल अपराधियों की तलाश में लगी ही हुई थी। मंगलवार की क्राइम ब्रांच और चोलपुर पुलिस की टीम जब कटहल गंज चौराहे पर मौजूद थी तो रात मुखबिर द्वारा सूचना मिली की शंकर मौर्य की ह्त्या में शामिल कुछ बदमाश मोटरसाइकिल पर सवार होकर बेला से कटहलगंज जाने वाले हैं।

पुलिस टीम पर कर दी फायरिंग
इस बात पर विशवास करते हुए क्राइम ब्रांच और चोलापुर पुलिस ने श्रीकृष्ण आयुर्वेदिक महाविद्यालय को जाने वाले संपर्क मार्ग तिराहा पर पहुंच कर झोपड़ी के आड़ में वाहनों को खड़ा कर वाहन चेकिंग करने लगे। इसी बीच सामने से बेलारौना खुर्द मार्ग पर एक मोटर साईकिल पर सवार तीन व्यक्ति आते दिखाई दिये। पुलिस को देख ये वापस भागने लगे। क्राइम ब्रांच और पुलिस टीम ने जब इन्हे दौड़ाया तो इन लोगों ने पुलिस टीम पर फायर झोक दिया। वहीं पुलिस ने बहादुरी दिखाते हुए दो लोगों को पकड़ लिया जबकि एक भागने में सफल रहा।

45 हजार की दी थी सुपारी
पकड़े गए अभियुक्तों ने अपना नाम प्रीतम यादव निवासी ग्राम बेला थाना चोलापुर और संतोष राजभर निवास पतेरवा नई बाजार, थाना सारनाथ बताया। इस दौरान इनका एक साथी सोनू राजभर निवासी हृदयपुर थाना सारनाथ भागने में सफल रहा। पकड़े गये दोनों बदमाशों ने खुद को शंकर मौर्या की हत्‍या में शामिल होना क़ुबूल कर लिया। बताया कि इस घटना का मुख्य साजिशकर्ता ग्राम प्रधान राजू कन्नोजिया है, जिसने पिस्टल के लाइसेन्स के लिए यह ह्त्या करवाई थी। उसने हमें इसके लिए 45 हज़ार रुपये दिये थे।

बोला था घायल करना, उतार दिया मौत के घाट
एसपी ग्रामीण ने बताया कि इन दोनों की निशानदेही और बयान पर प्रधान राजू कन्नोजिया को उसके घर के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। राजू ने चुनाव में पुनः जीत हासिल करने, गांव में अपने रुतबे को बढ़ाने के लिये रिवाल्वर का लाइसेंस लेने और मृतक की ज़मीन अपने नाम करवाने के इरादे से यह साजिश रची थी। एसपी ग्रामीण के अनुसार राजू कन्नोजिया ने सिर्फ उसे घायल करने के लिये कहा था पर नशे की हालात में सुपारी किलर ने 4 राउंड फायर कर दिया, जिससे शंकर की मौत हो गयी।

पुलिस ने बरामद किये ये असलहे
गिरफ्तार अभियुक्तों के पास से एक पिस्टल .32 बोर व एक जिन्दा कारतूस .32 बोर व एक खोखा कारतूस .32 बोर, एक तमंचा .303 बोर व दो अदद कारतूस .303 बोर, एक स्प्लेंडर प्लस मोटर साईकिल बरामद करते हुए इन्हे आईपीसी की धारा -307/302/120 बी के तहत जेल भेजा जा रहा है।

इस टीम ने किया गिरफ्तार
इन अभियुक्तों को गिरफ्तार करने में क्राइम ब्रांच के प्रभारी सब इंस्‍पेक्‍टर विक्रम सिंह, सब इंस्‍पेक्‍टर अमित मिश्रा, हेड कॉन्स्टेबल पुन्देव सिंह, हेड कॉन्स्टेबल सुमन्त सिंह, हेड कॉन्स्टेबल रामभवन यादव, हेड कॉन्स्टेबल सुरेन्द्र मौर्य, हेड कॉन्स्टेबल घनश्याम वर्मा, कॉन्स्टेबल रामबाबू, कॉन्स्टेबल चन्द्रसेन सिंह, कॉन्स्टेबल कुलदीप सिंह, कॉन्स्टेबल चालक सुनील राय शामिल रहे। इसके अलावा थाना चोलापुर के प्रभारी निरीक्षक अशोक सिंह यादव, सब इंस्‍पेक्‍टर धनराज शर्मा, अजगरा चौकी इंचार्ज सब इंस्‍पेक्‍टर धीरेन्द्र प्रताप सिंह, कॉन्स्टेबल विजय दूबे, कॉन्स्टेबल रामबृक्ष यादव, कॉन्स्टेबल कृष्ण मेनन सिंह शामिल रहे।