मंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी ने मीडिया को बताया- PM मोदी का 15वां वाराणसी दौरा क्‍यों खास है

डॉ नीलकंठ तिवारी, राज्‍यमंत्री, उत्‍तर प्रदेश सरकार

नारस। ”70 सालों में मोदी जी इस देश के पहले प्रधानमंत्री हैं जो योजनाओं का ना सिर्फ शिलान्यास करते हैं, बल्‍कि उसके बाद उस योजना का समय समय पर स्थलीय निरीक्षण कर उसकी मॉनिटरिंग भी करते हैं और तो और तय समय पर उसका उद्घाटन करते हैं।” उक्त बातें राज्यमंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी ने प्रधानमंत्री के 15वें वाराणसी दौरे को लेकर पूछे गये एक सवाल के जवाब में कही है।

राज्‍यमंत्री नीलकंठ तिवारी ने उन योजनाओं के बारे में भी बताया जिनका प्रधानमंत्री यहां शिलान्‍यास और लोकार्पण करने वाले हैं।

विज्ञापन

राज्‍यमंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र में 12 नवम्बर को आ रहे हैं, अभी इसका संभावित कार्यक्रम आया है। अभी इसका फ़ाइनल प्रोटोकॉल आना बाकी है। इस दौरान प्रधानमंत्री यहां रामनगर में पहले इनलैंड वाटर हाई- वे को देश को समर्पित करेंगे। इसके अलावा रिंग रोड, बाबतपुर-वाराणसी हाइ-वे और दीनापुर एसटीपी का लोकार्पण प्रधानमंत्री करेंगे। इसके साथ 6 अन्य योजनाओ का भी लोकार्पण प्रधानमंत्री करेंगे।

वहीं जब मंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी से प्रधानमंत्री के 15वें दौरे की खासियत के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा की इसका जवाब आप जनता से कीजिये। फिर उन्‍होंने खुद ही इस बात को विस्‍तार देते हुए कहा कि भारत के इतिहास में मोदी जी पहले प्रधानमंत्री हैं जो योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण एक ही कार्यकाल में कर रहे हैं। चाहे वो ट्रेड फेसिलिटी सेंटर हो या रामनगर में बनकर तैयार बनारस टर्मिनल।

वहीं जल परिवहन के द्वारा पर्यटन के बढ़ावे के सवाल पर राज्य मंत्री ने कहा कि अभी तो मालवाहक को प्रधानमंत्री हरी झंडी दिखाकर इस बंदरगाह का उद्घाटन करेंगे। आगे हम इसपर भी कार्य करेंगे क्योंकि जल परिवहन अन्य परिवहन के साधनों से सस्ता है।

प्रधानमंत्री अपने 12 नवम्बर के संभावित वाराणसी दौरे पर इन योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे।

1. रामनगर राल्हूपुर मल्टी मॉडल टर्मिनल : 208 करोड़ रुपये
2. कचहरी से बाबतपुर तक फोर लेन : 17.25 किमी, 812.59 करोड़ रूपये
3. रिंग रोड फेज 1 – हरुआ से आजमगढ़ मार्ग, गोइठहां तक 17 किमी – 759.36 करोड़ रुपये
4. दीनापुर एसटीपी : 140 एमएलडी – 186.46 करोड़ रुपये
5. 3 सीवेज पम्पिंग स्टेशन : 140 एमएलडी चौकाघाट, 7.5 एमएलडी फुलवरिया और 3.7 एमएलडी सरैया – 34 करोड़ रुपये
6. इंटरसेप्शन सीवर और पंपिंग वर्क : वरुणा नदी पर और आसपास 28 किमी -155 करोड़ रुपये
7. तेवर ग्राम पेयजल योजना : 15 बस्तियों में 6000 से ज्यादा आबादी को पेयजल मिलेगा – 2 करोड़ 79 लाख रुपये
8. आश्रय योजना के तहत लू ठण्ड से बचने वालो के लिए भवन – 1.54 करोड़ रुपये
9. कस्तूरबा गाँधी बालिका विद्यालय देईपुर हॉस्टल – 1.70 करोड़ रुपये
10. आईपीडीएस फेज 2 -123 किमी अंडर ग्राउंड बिजली वायर- सारनाथ और बौद्ध पर्यटन स्थली, 18 नए ट्रांसफार्मर, 372 किमी ओवरहेड तारों का जंजाल हटाने को 139 करोड़ रुपये

शिलान्यास होने वाली योजनाएं :
1. रामनगर में ड्रेनज और ट्रीटमेंट वर्क : 9 नाले बंद होंगे जो गंगा में गिरते हैं। 13 एमएलडी क्षमता ट्रीटमेंट प्लांट -72 करोड़ रूपये
2. डोमरी रामनगर में हैलीपैड निर्माण कार्य – 4 करोड़ 94 लाख रुपये
3. किला कटरिया मार्ग चौड़ीकरण, सौंदर्यीकरण – 2 करोड़ 36 लाख रुपये
4. लहरतारा बीएचयू फुटपाथ मार्ग निर्माण, सुंदरीकरण – 20 करोड़ 99 लाख रुपये
5. करौदी में ड्राइवर प्रशिक्षण केंद्र – 4 करोड़ 44 लाख रुपये
6. सर्किट हाउस फर्स्ट फ्लोर मीटिंग हाल – 3 करोड़ 24 लाख रुपये
7. एनएच- 7 पड़ाव से रामनगर टेंगरा मोड़ मरम्मत कार्य -3 करोड़ 16 लाख रुपये

देखें वीडियो, मीडिया से बातचीत में क्‍या बोले मंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी

विज्ञापन