वाराणसी : राष्ट्रव्यापी संविधान सम्मान यात्रा पंहुची PM के आदर्श गांव नागेपुर

0
28

नारस। गुरुवार को जन आंदोलनों के राष्ट्रीय समन्वय, (NAPM) द्वारा राष्ट्रव्यापी संविधान सम्मान यात्रा, जो कि दांडी से 2 अक्टूबर को निकल कर अनेक राज्य होते हुए गुरुवार को प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम नागेपुर पहुंची।

जहां पर ग्रामवासियों ने यात्रादल में शामिल लोगों को माला पहनाकर जोरदार स्वागत किया। इस यात्रा में देश भर के विभिन्न आंदोलनों के 50 से ज्यादा कार्यकर्ता शामिल है।

इस दौरान लोक समिति आश्रम से अम्बेडकर पार्क तक लोगों ने जन अधिकारों की रक्षा के लिये जोरदार रैली निकाली गयी। रैली में लोगों ने भीख नही अधिकार चाहिए जीने का सम्मान चाहिए, रोटी कपड़ा और मकान मांग रहा है हिंदुस्तान, हम अपना अधिकार जानते नही किसी से भीख मांगते आदि नारे लगाये।

यात्रा पहुंची नागेपुर आदर्श ग्राम
संविधान रचयिता डॉ अम्बेडकर की प्रतिमा पर लोगों ने माला पहनाकर संविधान के प्रस्तावना की शपथ लिया। यह यात्रा 10 दिसम्बर को दिल्ली पंहुचेगी। इस दौरान यात्रा दल में आये लोगों ने नागेपुर गांव का भ्रमण किया और प्रधानमंत्री के गोद लिए गांव के विकास का सच देखा।

संविधान की मूल भावना का हो रहा उलंघन
यात्रा में शामिल मैग्सेसे पुरस्कार से सम्मानित डॉ संदीप पाण्डेय ने कहा कि अबतक की सभी सरकारे संविधान की मूल भावना का उलंघन कर रही है। संविधान में प्रत्येक व्यक्ति की गरीमा सुनिश्चित की गयी है लेकिन आजादी के 70 साल बाद भी आमलोगों को रोटी कपड़ा मकान शिक्षा और स्वास्थ्य नसीब नही हुआ। इसलिए जन आंदोलनों के लोग संविधान के मूल्यों को आगे बढ़ाने के लिए यात्रा कर रहे हैं।

स्मार्ट सिटी के नाम पर गरीबो पर हो रहा अत्याचार
वही नर्मदा बचाओं आंदोलन से जुड़ी अरुन्धती धुरु कहा कि गरीब लोगों को स्मार्ट सिटी के नाम पर उजाड़ा जा रहा है। हाईकोर्ट के आर्डर की भी अवहेलना की जा रही है।

कार्यक्रम का संचालन लोक समिति संयोजक नन्दलाल मास्टर ने किया। धन्यवाद पूर्व प्रधान मुकेश कुमार ने किया।

कार्यक्रम में मुख्यरूप से केरल मीरा, स्वाती कामायनी, महेंद्र सुनीति, ताई ऋचा सिंह, रेखा चौहान, रामबली, बुध्धू मास्टर, सुरेश, अजय, प्रदीप, विनोद, अरविन्द जगरूपना, राजेश, रंजू सिंह, रामकिंकर, स्वाति सिंह, नन्दलाल, मास्टर मुकेश प्रधान, रामबचन, सुनील, श्यामसुन्दर, सरिता, अनीता, सोनी, सुनील पंचमुखी सुरेश महेंद्र राठौर आदि लोग शामिल रहे।