श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर दर्शन के लिए जल्द शुरू होगी गंगा में ‘फेरी’

प्रतीकात्मक फोटो

नारस। पूरा विश्व बाबा विश्वनाथ का दर्शन करने के लिए वाराणसी आता है। शहर में लगने वाले जाम के झाम से दो चार होकर भक्त बाबा के दर्शन करते हैं। इन्ही भक्तों की सुविधा और दर्शन सुलभ कराने के लिए पर्यटन विभाग विश्वनाथ कॉरिडोर योजना के लिए फेरी सुविधा (पानी का जहाज़) शुरू करने जा रहा है। यह फेरी भक्तों को विश्वनाथ कॉरिडोर के गंगा तट पर आने वाले रस्ते के पास भक्तों को छोड़ेगी

इनलैंड वाटर ऑथरिटी ऑफ़ इन्डिया (IWAI) के अध्यक्ष प्रवीर पांडेय ने बताया कि जिला प्रशासन के सहयोग से विश्वनाथ कॉरिडोर में गंगा के ललिता घाट और मणिकर्णिका घाट के बीच में खुलने वाले मार्ग तक अब बाबा विश्वनाथ के भक्तों को पानी के जहाज़ (फेरी) से ले जाने की शुरुआत की जा रही है। इस योजना के अंतर्गत विश्वनाथ कॉरिडोर को अस्सी घाट, राजघाट और रामनगर से जोड़ा जाएगा। तीनों स्थानों पर जेटी बनवायी जाएगी।

विज्ञापन

प्रवीर पांडेय ने बताया कि रामनगर के मल्टी मॉडल टर्मिनल के पास पैसेंजर टर्मिनल बनाया जायेगा। IWAI इसका कार्य जनवरी में शुरू कर देगा। जिलाधिकारी वाराणसी के निर्देशन में इसके ऊपर कार्य किया जा रहा है। जल्द ही यह कार्य अपने मूर्त रूप में दिखने लगेगा।

रामनगर में यात्रियों के उतरने चढ़ने की व्यवस्था के साथ साथ वोटिंग रूम भी बनाया जाएगा। श्रद्धालु अपने वाहन से अस्सी घाट या राजघाट पहुंचेंगे। यहां से पानी के जहाज से विश्वनाथ कॉरिडोर तक आएंगे। दर्शन-पूजन के बाद श्रद्धालु जलमार्ग से ही राजघाट, अस्सी घाट और रामनगर की ओर निकल जाएंगे।

विज्ञापन