नारस। शहर को साफ रखने में सफाई कर्मियों का विशेष योगदान रहता है और वे खुद वायु प्रदूषण के सबसे ज्यादा शिकार हो रहे हैं। जिसके मद्देनजर जन अधिकार मंच के ओर से शहर के ईश्वरगंगी सफाई बस्ती के समीप रहने वाले 23 सफाई कर्मियों के बीच शनिवार को दस्ताने, डेटॉल और मॉस्क का वितरण किया गया।

इस दौरान महिला और पुरुष सफाई कर्मियों को सुरक्षा के साथ सफाई करने का सुझाव देते हुए मंच के अध्यक्ष अनिल कुमार मौर्य ने कहा कि यह कार्य प्रशंसनीय है। सुरक्षा की सबसे अधिक जरूरत महिला सफाई कर्मियों को है, जिससे महिला स्वीपर अपना व बच्चों का समुचित देखभाल कर सके। सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार गुप्ता ने सफाई कर्मियों से कहा कि चाहे नाली की सफाई हो या, शौचालय की सफाई, अगर महिला स्वीपर सुरक्षा के बीच सफाई करती है तो उनका स्वस्थ रहना स्वाभाविक है। मोहम्मद आरिफ अंसारी ने महिला स्वीपर को अपने बच्चों को शिक्षा दिलाने का सुझाव भी दिया।

विज्ञापन

न्याय मंच के किरन गुप्ता व ममता ने कहा कि महिला सफाई कर्मियों के बीच मॉस्क, डेटॉल और दस्ताने वितरण करने का मकसद महिला स्वीपर को सुरक्षा के बीच सफाई करने का आदत दिलाना है। समाज को स्वच्छ रखने का जिम्मेवारी वैसे सभी वर्गों को है लेकिन यह जिम्मेवारी सबसे बड़ा सफाई कर्मियों पर तय किया गया है। ऐसे में मॉस्क, दस्ताने और डेटॉल के साथ सफाई करती है तो निश्चिंत तौर पर महिला स्वीपर पूरी तरह से स्वस्थ रहेंगी। पुख्ता सुरक्षा के बीच सफाई करने का पूरा अधिकार इन महिलाओं को है।

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।