अंतरराष्ट्रीय चावल अनुसंधान केंद्र की समस्याओं का समाधान प्राथमिकता पर करें -प्रमुख सचिव कृषि

0
19

नारस। उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव कृषि अमित मोहन प्रसाद ने वाराणसी जनपद में नवनिर्मित अंतरराष्ट्रीय चावल अनुसंधान केंद्र का निरीक्षण करने के पश्चात मौके पर उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित किया कि अनुसंधान केंद्र के संबंध में जो कुछ भी समस्याएं आ रही हैं उससे प्रशासन के अधिकारियों को अवगत कराते हुए शीघ्र समाधान सुनिश्चित कराया जाए। इसमें किसी भी स्तर पर कोताही कतई न भर्ती जाए।

उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव कृषि अमित मोहन प्रसाद ने शासन द्वारा किसानों के लिए संचालित योजनाओं का क्रियान्वयन समयबद्धता के साथ सुनिश्चित कराए जाने पर विशेष जोर देते हुए कृषि विभाग के उप निदेशक एवं जिला कृषि अधिकारियों को कड़े निर्देश दिये। प्रमुख सचिव कृषि अमित मोहन प्रसाद शुक्रवार को सर्किट हाउस में विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। उन्होंने ज़ोर देते हुए कहा कि इसमें किसी भी स्तर पर शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

प्रमुख सचिव कृषि ने वाराणसी जनपद में कृषि विभाग को आवंटित बजट के सापेक्ष कम व्यय होने की जानकारी पर नाराजगी व्यक्त करते हुए योजनाओं के सापेक्ष व्यय सुनिश्चित कराए जाने का निर्देश दिया। दिसंबर माह में अंतरराष्ट्रीय चावल अनुसंधान केंद्र के लोकार्पण के लिए प्रधानमंत्री वाराणसी आ सकते हैं। ऐसे में इसके पहले प्रमुख सचिव कृषि वाराणसी पहुंचे थे।

उन्होंने अधिकारियों 12 से 15 एवं 17 से 20 दिसंबर तक दो चरणों में प्रत्येक न्याय पंचायत के 2-2 ग्राम सभाओं में आयोजित होने वाले किसान पाठशाला की तैयारियों के संबंध में चर्चा के दौरान निर्देशित किया कि पाठशाला में किसानों को विभागीय योजनाओं की जानकारी देने के साथ-साथ उनकी समस्याओं का भी प्राथमिकता पर समाधान सुनिश्चित कराया जाए।

इसके अलावा उन्होंने जिला कृषि अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि किसानों को बीज, खाद, उर्वरक के साथ-साथ कृषि के लिए पानी आदि की भी व्यवस्था भी सिंचाई एवं नलकूप विभाग के अधिकारियों के साथ समन्वय कर सुनिश्चित कराएं जाए।

उन्होंने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि किसानों की आय बढ़ाए जाने हेतु आवश्यक है कि किसानों के हित के लिए शासन द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ उन्हें प्राथमिकता के आधार पर उपलब्ध कराई जाए। ताकि किसान अपने कृषि कार्य में उसका उपयोग करके अपने उत्पाद को बढ़ाएं, जिससे उनकी आय में वृद्धि हो सके। प्रमुख सचिव अमित मोहन प्रसाद ने विभागीय अधिकारियों को देते हुए कहा कि किसान हमारे अन्नदाता है, इनकी समस्याओ का समाधान प्रत्येक दशा में प्राथमिकता पर सुनिश्चित होना चाहिए।