‘मसाले मे बारुद ज्यादा मिलाओ ताकि तेज विस्फोट हो सके’ आवाज़ सुन चौंकी पुलिस, पकड़ा गया बारूद

नारस। चेतगंज थाने की पुलिस ने संदिग्ध व्यक्तियों और सामानों की धर पकड़ के वाराणसी एसएसपी के निर्देश के क्रम पितरकुंडा इलाके से विस्फोटक के साथ दो लोगों को गिरफ्तार किया है। मुखबिर ख़ास से मिली सूचना पर जब पुलिस पितरकुंडा स्थित एक मकान पर पहुंची तो अंदर से आवाज़ आयी ‘मसाले मे बारुद ज्यादा मिलाओ ताकि तेज विस्फोट हो सके’ ये आवाज़ सुनते है पुलिस ने छापेमारी की तो एक किलोग्राम विस्फोटक सहित 18 बण्डल निर्मित काग सहित दो सगे भाइयों को मौके से बारूद भरते गिरफ्तार कर लिया।

इस सम्बन्ध में क्षेत्राधिकारी चेतगंज अंकिता सिंह ने बताया कि प्रभारी निरीक्षक चेतगंज की पुलिस टीम के उपनिरीक्षक राजीव कुमार सिह, उपनिरीक्षक अजय प्रताप यादव, उपनिरीक्षक कमल भूषण राय व उपनिरीक्षक राजू कुमार मय हमराह के बेनिया तिराहे पर वाहन चेकिंग करने के लिए मौजूद थे। उसी समय मुखबिर ख़ास ने सूचना दी कि मुहल्ला पितरकुण्डा के मकान नं. सी-11/59 मे विस्फोटक पदार्थ से मय उपकरण के साथ विस्फोटक बम बनाया जा रहा है।

विज्ञापन

इस सूचना पर त्वरित कार्यवाही करते हुए उक्त मकान के पास पहुंचकर दरवाजे की आंड़ मे खडे होकर निगरानी करने लगे कि थोडी देर बाद एक व्यक्ति की आवाज आई कि ‘मसाले मे बारुद ज्यादा मिलाओ ताकि तेज विस्फोट हो सके’ उक्त बात की यकीन होने पर हम पुलिस वाले एक बारगी कमरे मे दबिश दिये तो दो व्यक्ति विस्फोटक पदार्थ से बम बनाते हुए मय उपकरण के साथ पकडे गये ।

सीओ ने बताया कि पकडे गए व्यक्तियो ने अपना नाम सलाउद्दीन सिद्दीकी निवासी सी-11/59 पितरकुण्डा थाना चेतगंज जनपद वाराणसी बताया तथा दूसरे ने अपना नाम इमरान सिद्दीकी निवासी उपरोक्त बताया। सीओ अंकिता सिंह ने बताया कि जब मकान की तलाशी ली एक किलोग्राम विस्फोटक पदार्थ 3 किलोग्राम नमक केमिकल (सोरा), 18 बंडल निर्मित काग के पटाखे एक बोरी मे, एक बोरी अर्ध निर्मित काग जूट की बोरी मे व एक बोरी पक्की मिट्टी की विस्फोटक पदार्थ भरने की घरीया बरामद हुई । इस सम्बन्ध में उनसे जब कागज़ात मांगे गए तो वो कोई कागज़ात भी नहीं दिखा सके।

पकडे गए अभियुक्तों को पुलिस द्वारा मुकदमा संख्या -304/18 धारा 4/5 विस्फोटक पदार्थ अधिनियम 1908 पंजीकृत कर अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है । इनको पकड़ने में प्रभारी निरीक्षक अजीत कुमार मिश्र, उपनिरीक्षक राजीव कुमार सिह, उपनिरीक्षक अजय प्रताप यादव, उपनिरीक्षक राजू कुमार, उपनिरीक्षक कमलभूषण राय, कांस्टेबल विनोद सिह, हेड कांस्टेबल घनश्याम सिह, कांस्टेबल दिनेश यादव व कांस्टेबल अवनीश राय नेमहति भूमिका निभाई।

विज्ञापन