वारणसी के स्वर्ण व्यवसायियों ने पुलिस पर लगाया आरोप, ADG से की शिकायत

0
23

नारस। स्वर्ण व्यवसायियों के साथ आए दिन चोरी, छिनैती होना आम बात हो गया है। एक तरफ पुलिस उक्त घटनाओं पर अंकुश नहीं लगा पा रही है, वहीं दूसरी घटनाओं के खुलासे भी अत्यंत संदेहजनक तरीके से हो रहे हैं।

व्यवसायियों ने आरोप लगाया है कि वाराणसी जनपद में बीते कुछ महीनों पूर्व हुई लाखों की चोरी में खुलासे के बाद अभियुक्तों की गिरफ्तारी दिखाते हुए पुलिस ने अपनी पीठ तो थपथपा ली, लेकिन पीड़ित व्यवसायी का रत्ती भर भी माल बरामद नहीं हो सका, जबकि माल खरीदने वाले कि पूरी जन्मकुंडली पुलिस के पास मौजूद है।

चार महीने से भटक रहा स्‍वर्ण व्‍यवसायी
बताया गया कि वाराणसी के पांडेयपुर क्षेत्र के मूल निवासी अभिषेक सोनी की भेलूपुर थाना क्षेत्र में बड़ी गैबी में आभूषण का प्रतिष्ठान है। लगभग 4 महीने पूर्व 3 अगस्त देर रात्रि में चोरों ने दुकान में रखी तिजोरी तोड़कर गहने व नगदी समेत लगभग 15 लाख रूपये का सामान उठा ले गये।

चोर पकड़कर ही खुश हो गयी पुलिस
4 अगस्त की प्रात: घटना की जानकारी होने पर भेलूपुर थाने में पीड़ित अभिषेक सोनी की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा संख्या 400/2018 आईपीसी की धारा 457, 380, 411, 35 के तहत मामला दर्ज किया। मौके पर सीसीटीवी फुटेज भी प्राप्त हुई। कुछ दिन बाद पुलिस ने मामले में संलिप्त अभियुक्तों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया और अपनी पीठ थपथपा ली।

पुलिस कह रही प्रयास जारी है
पीड़ित व्यवसायी के अनुसार इतना होने के बाद भी उसका एक पैसे का माल बरामद नहीं हो सका। अभियुक्तों की जानकारी के बावजूद भी माल बरामदगी ना होने की कहानी गले नहीं उतर रही है। वहीं पुलिस की मानें तो गिरफ्तार अभियुक्तों की सूचना पर पुलिस की एक टीम बेतिया बिहार गयी थी, लेकिन कोई सफलता न मिलने पर बैरंग लौट आयी। पुलिस के अनुसार माल बरामदगी के लिये प्रयास जारी हैं।

कई बार लगा चुके है गुहार
यह भी बता दें कि पहले भी व्‍यापारियों ने कई बार अधिकारियों से मिलकर तथा पुलिस लाइन में आयोजित व्‍यापारी-पुलिस विशेष बैठक के दौरान भी इस मामले की शिकायत की है, मगर कोई कार्रवाई नहीं हो सकी है। इसके बाद अब थक-हारकर स्वर्ण व्यवसायियों ने वाराणसी जोन के एडीजी पीवी रामाशास्त्री से मंगलवार को मुलाकात की है।

एडीजी ने दिया आश्‍वासन
एडीजी ने इस मामले में संबंधित अधिकारियों से वार्ता करते हुए भुक्तभोगी को पुन: ढाढ़स बधाया तथा जल्द से जल्द माल बरामदगी का आश्वासन दिया है। इस संबंध में भुक्तभोगी अभिषेक सेठ ने रूंधे गले से कहा कि जिन लोगों का माल उधारी लिया था अब उन लोगों ने दबाव बनाना शुरू कर दिया है, जिससे उनका जीना दूभर हो गया है।

माल बरामद नहीं हुआ तो आंदोलन को होंगे बाध्य
वहीं वाराणसी स्वर्णकार व्यापार मंडल के अध्यक्ष जितेंद्र सेठ ने कहा है कि यदि जल्द से जल्द माल बरामद नहीं हुआ तो वे जनपद के सभी स्वर्ण व्यवसायियों का समर्थन लेते हुए सड़क पर उतरेंगे तथा स्वर्णकार हित में बड़े आंदोलन करने को बाध्य होंगे।

एडीजी से मिलने वालों में प्रमुख रूप से वाराणसी स्वर्णकार व्यापार मंडल अध्यक्ष जितेन्द्र कुमार सेठ, महामंत्री मुरारी सेठ, सुरेन्द्र कुमार सेठ (एडवोकेट), बृजेश सेठ मोनू, कमलेश वर्मा, श्रवण सेठ, संतोष सेठ, अतुल सेठ, राजेश सेठ व वीरेंद्र सेठ मौजूद रहे।