नये साल पर मंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी संग अफसरों ने लिया समस्या मुक्त काशी का संकल्प

विज्ञापन

नारस। साल 2019 के पहले दिन यानी 1 जनवरी दिन मंगलवार को उत्तर प्रदेश के विधि-न्याय, युवा कल्याण, खेल एवं सूचना राज्य मंत्री डॉक्टर नीलकंठ तिवारी ने ”समस्या मुक्त काशी” का अधिकारियों को संकल्प दिलाया। उन्‍होंने जिलाधिकारी सुरेन्‍द्र सिंह से कहा कि जनपद के सभी 1360 राजस्व ग्राम सभाओं एवं शहर के 90 वार्डों में नोडल अधिकारियों को नामित किया जाए।

राज्‍य मंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी ने जिलाधिकारी को कहा कि इन सभी नोडल अधिकारियों के लिये 15 दिनों की समय सीमा निर्धारित की जाए। ये अधिकारी अपने-अपने अधिकार क्षेत्र में आने वाले इलाकों की मूलभूत एवं बुनियादी समस्याओं के लिये वहां के आम जनमानस से चर्चा करें और उसे संकलित करेंगे। इससे वहां की जन समस्याओं से संबंधित मूलभूत एवं बुनियादी समस्याओं का युद्ध स्तर पर अभियान चलाकर उसे समस्‍या मुक्‍त कराया जा सके।

विज्ञापन

उत्तर प्रदेश के विधि न्याय युवा कल्याण सूचना राज्य मंत्री डॉक्टर नीलकंठ तिवारी मंगलवार को तहसील सदर मुख्यालय पर आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस के मौके पर फरियादियों की समस्याओं को सुनते हुए निस्तारण कर रहे थे। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जनता की 90% शिकायतों का समाधान अधिकारियों के स्तर पर निस्तारित किया जा सकता है। किंतु प्रमुख अवसरों पर जन समस्याओं की अधिकाधिक शिकायतें देखने पर प्रतीत होता है कि अधिकारी अपने दायित्वों का निर्वहन सुचारु तरीके से नहीं कर रहे हैं। यह स्थिति आपत्तिजनक है।

उन्होंने शिकायती प्रार्थना पत्रों का गुणवत्ता के साथ त्वरित निस्तारण सुनिश्चित कराए जाने हेतु रणनीति बनाये जाने पर विशेष जोर देते हुए जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि संपूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर पूर्व के समाधान दिवस पर प्राप्त प्रार्थना पत्रों के सापेक्ष निस्तारण के बाबत दिए गए निर्देशों के अनुपालन की प्रगति की भी समीक्षा अवश्य किया जाए। जिससे स्पष्ट हो सके कि समयान्तर्गत कितने शिकायती प्रार्थना पत्रों का निस्तारण किया गया।

उन्होंने शिकायती प्रार्थना पत्रों के निस्तारण में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को चिन्हित कर उनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई किए जाने हेतु भी जिलाधिकारी को निर्देशित किया। उन्होंने अपनी समस्याओं के समाधान हेतु आने वाले लोगों के साथ मधुर एवं सकारात्मक भाव के साथ व्यवहार किए जाने हेतु मौके पर मौजूद अधिकारियों को निर्देशित किया।

संपूर्ण समाधान दिवस के मौके पर पत्रकारपुरम निवासिनी निरुपमा श्रीवास्तव द्वारा पति से विवाद होने का हवाला देते हुए गंभीर बीमारी से ग्रसित अपने 8 साल के बच्चे का इलाज आर्थिक कारणों से न हो पाने की गुहार लगाए जाने पर मंत्री डॉक्टर नीलकंठ तिवारी ने बच्चे के इलाज हेतु चिकित्सक से स्टीमेट बनवाकर उपलब्ध कराए जाने को कहा और भरोसा दिया कि बच्चे के इलाज हेतु शासन स्तर से आवश्यक धनराशि उपलब्ध कराई जाएगी।

पति द्वारा मारपीट किए जाने की शिकायत पर थाना प्रभारी कैंट को आवश्यक जांच कर वैधानिक कार्यवाही किए जाने का भी निर्देश दिया। मौजा तोफापुर परगना जाल्हूपुर में अस्थानी दबंगों एवं भू-माफिया द्वारा ग्राम सभा की बंजर भूमि पर अवैध तरीके से कब्जा कर लिए जाने तथा धारा-41 के आदेश व मौके पर सीमांकन के बावजूद सरकारी भूमि को कब्जा मुक्त न होने तथा थाना चौबेपुर द्वारा शिकायत के बावजूद दबंगों के विरुद्ध कार्यवाही न किए जाने की जानकारी पर दोषियों के विरुद्ध तत्काल विधिवत कार्यवाही किए जाने का निर्देश दिया।

शिवपुर थाना अंतर्गत ग्राम पिछोर निवासी महेंद्र पटेल की जमीन पर बोये गए सरसों की फसल को स्थानीय दबंगों द्वारा जोट कर नष्ट कर दिए जाने और मारने पीटने की धमकी दिए जाने की शिकायत पर थाना प्रभारी शिवपुर को जांच कर तत्काल कार्यवाही किए जाने का निर्देश दिया गया।

राजेश पांडे द्वारा पहाड़िया बेनीपुर स्थित संत नगर कॉलोनी में सड़क के मध्य में जलनिगम की पाइपलाइन से पानी के लगातार बहने से सड़क पर जल भराव होने के कारण आवागमन बाधित होने तथा दुर्घटना की आशंका जताए जाने पर उन्होंने जल निगम के अधिकारी को मौके पर तलब कर तत्काल क्षतिग्रस्त पाइप लाइन को दुरुस्त कराए जाने का निर्देश दिया।

संपूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह ने मौके पर मौजूद अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि प्राप्त शिकायती प्रार्थना पत्रों का गुणवत्ता के साथ समय अंतर्गत निस्तारण प्रत्येक दशा में सुनिश्चित कराया जाए। प्रार्थना पत्रों के निस्तारण में किसी भी स्तर पर शिथिलता किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

इस अवसर पर अधिकारी ने मौके पर मौजूद अधिकारियों से प्रवासी भारतीय दिवस कार्यक्रम की तैयारियों के संबंध में भी प्रगति की जानकारी करते हुए सौपे गए कार्यों को युद्ध स्तर पर अभियान चलाकर शीघ्र पूर्ण कराए जाने का निर्देश दिया।

संपूर्ण समाधान दिवस के मौके पर तहसील सदर पर 83, पिण्डरा पर 102 तथा राजातालाब पर 113 सहित कुल-298 शिकायती प्रार्थना पत्रों में से तीनों तहसीलों पर कुल-29 का मौके पर ही निस्तारण कर शेष प्रार्थना पत्रों को संबंधित विभागीय अधिकारियों को उपलब्ध कराते हुए एक सप्ताह के अंदर निस्तारण किए जाने का निर्देश दिया गया। संपूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर तीनों तहसीलों पर सबसे अधिक राजस्व एवं पुलिस विभाग से संबंधित शिकायत ही प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए।

संपूर्ण समाधान दिवस के मौके पर तहसील सदर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आनंद कुलकर्णी, मुख्य विकास अधिकारी गौरांग राठी, अपर जिलाधिकारी प्रशासन मुनींद्र नाथ उपाध्याय, मुख्य चिकित्सा अधिकारी सहित तीनों तहसील मुख्यालयों पर उप जिलाधिकारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी के अलावा विद्युत, जल निगम, स्वास्थ्य, लोक निर्माण विभाग एवं पंचायत आदि अन्य विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

विज्ञापन