नारस। चौकाघाट स्‍थित जिला कारागार में अपने परिचित से मिलने पहुंचे समाजवादी पार्टी अल्‍पसंख्‍यक सभा के पूर्व जिलाध्‍यक्ष अमिक अहमद उर्फ इशान पर जानलेवा हमला हुआ है। सपा नेता ने आरोप लगाया है कि प्रभु साहनी हत्‍याकांड में आरोपियों ने उन्‍हें जेल में जान से मारने का प्रयास किया है। इसके अलावा जेलर के सामने ही मुझे जान से मार डालने की धमकी भी दी गयी है।

घटना के बाद कैंट थाने पहुंचे सपा नेता अमिक अहमद ने इस मामले में पुलिस को लिखित तहरीर दी है। अमिक के अनुसार, ”मैं बुधवार को करीब दोपहर दो बजे वे चौकाघाट स्थित जिला कारागार वाराणसी में बंद अपने परिचित राहुल यादव से मुलाकात करने पहुंचे थे। जैसे ही मैं जिला कारागार के गेट से होकर मुलाकात करने वाले स्थान पर पहुंचा ही था कि तभी सपा नेता प्रभु साहनी के हत्या के आरोप में बंद शातिर अपराधी रिजवान अंसारी उर्फ पप्पू, उसका साथी अफरोज अंसारी समेत करीब 4-5 अज्ञात बंदियों ने मेरे ऊपर लाठी, डंडा, लात-मुक्का और किसी भारी वस्तु से जानलेवा हमला कर मुझे गंभीर रूप से घायल कर दिया।

कैंट थाने पर अपनी शिकायत लेकर पहुंचे सपा नेता
सपा नेता की ओर से कैंट थाने में दी गयी लिखित तहरीर

अमिक ने आरोप लगाया है कि रिजवान समेत उसके अन्य साथियों ने हमला करने के दौरान बाहर मेरी हत्या कराने की धमकी दी है। अमिक के अनुसार वे सपा कार्यकर्ता राहुल यादव से मिलने गये थे, जिनसे उनकी मुलाकात पार्टी की एक बैठक में हुई थी। इस मामले में कैंट थाना प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि लिखित तहरीर मिली है, आरोपों की जांच कराके मुकदमा लिखकर आवश्‍यक कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

देखें वीडियो, मीडिया से बातचीत में क्‍या बोले सपा नेता अमिक अहमद