प्रतीकात्मक फोटो

नारस। प्रस्तावित इलेक्ट्रीसिटी अमेंडमेंट बिल-2018 के विरोध में 8 और 9 जनवरी को अखिल भारतीय स्तर पर होने वाले राष्ट्रीय व्यापी हड़ताल को सफल बनाने के लिए बुधवार को विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के क्षेत्रीय स्तर के पदाधिकारियों की एक बैठक भिखारीपुर प्रबन्ध निदेशक कार्यालय पर स्थित विद्युत मज़दूर पंचायत के कार्यालय पर सम्पन्न हुई।

हड़ताल को सफल बनाने के लिए दो टीमों का किया गठन
जिसमें सभी कर्मचारियों को 8 और 9जनवरी को होने वाली हड़ताल के प्रति जागरूक करने हेतु संघर्ष समिति में सम्मिलित विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों को सम्मिलित करते हुये 2टीमो का गठन किया गया है।

पहली टीम 3 तारीख को भेलूपुर के समस्त कार्यालयों से होते हुए सिगरा स्थित दोनों मंडल कार्यालयों पर पहुंचेगी। यहां से परीक्षण खण्ड, निर्माण खण्ड, एवं विद्युत वितरण खण्ड प्रथम होते हुए मड़ौली स्थित नगर विद्युत वितरण खण्ड-सप्तम आएगी। इसके बाद विद्युत वितरण खण्ड- द्वितीय होते हुए टीम प्रबन्ध निदेशक कार्यालय से मुख्य अभियंता कार्यालय होते हुए पारेषण मंडल के कार्यालयों के समस्त अभियंता और कर्मचारियों से मिलेगी।

इसी प्रकार दूसरी टीम चौकाघाट स्थित नगर विद्युत वितरण खण्ड – द्वितीय से होते हुए कज्जाकपुरा स्थित नगर विद्युत वितरण खण्ड-तृतीय, एवं अष्टम होते हुए लेढूपुर स्थित विद्युत वितरण खण्ड चिरईगांव पहुंचेगी। यहां से पहड़िया स्थित नगर विद्युत वितरण खण्ड-षष्ठम से होते हुए इमिलिया घाट स्थित नगर विद्युत वितरण खण्ड-पंचम और विद्युत पारेषण खण्ड -प्रथम के कर्मचारियों और अभियंता से मिलेंगे।

आज की बैठक में आरके वाही, डॉ आरबी सिंह, इंजीनियर जगदीश, इंजीनियर अरुण कुमार, अंकुर पाण्डेय, विकास कुशवाहा, आरबी यादव, संतोष वर्मा, ओपी भारद्वाज, मदन लाल श्रीवास्तव, ए के तिवारी आदि पदाधिकारी उपस्थित रहे।