जगरनाथ गली में झाड़ू लगाते पीएम नरेंद्र मोदी : फाइल फोटो

नारस। पीएम नरेंद्र मोदी ने अस्सी के जिस गली में झाड़ू लगाकर देश में स्वच्छता अभियान का आगाज किया था, आज वही गली अपने बदहाल स्‍थिति को लेकर आंसू बहा रहा है। हम बात कर रहे हैं काशी की प्रसिद्ध जगरनाथ गली जिसमें वाराणसी के सांसद नरेन्‍द्र मोदी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद जब दूसरी बार बनारस आए थे तो इसी गली में झाड़ू लगाकर पूरे देश में सफाई अभियान की शुरुआत की थी।

वाराणसी में टॉप आ चुका है ये वार्ड
यह गली वाराणसी के भदैनी वार्ड नंबर 54 में आती है, जिसकी पार्षद मीनू शर्मा हैं। हाल ही में इस वार्ड को स्‍वच्‍छता को लेकर हुई प्रदेश स्‍तर की प्रतिस्‍पर्धा में वाराणसी में पहला स्‍थान भी मिल चुका है। मगर आज हाल ये है कि जिस गली में खुद देश के पीएम ने झाड़ू लगाकर स्‍वच्‍छ भारत अभियान की अलख जगायी थी वो पूरी तरह से खस्‍ताहाल है।

उखड गये पत्थर, जमा है सीवर का पानी
तस्‍वीरों में आप देख सकते हैं कि गली में बिछाया गया पत्थर पूरी तरह से उखड़ गया है, जिसके कारण वहां बड़े बड़े गड्ढे हो गए हैं। इन गड्ढों में सीवर का पानी भर गया है, जिसके कारण इधर से गुजरने वाले राहगीरों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। खासकर स्कूल पढ़ने जाने वाले छोटे-छोटे बच्चों को तो काफी परेशानी हो रही है।

”क्‍या करें कोई सुनता ही नहीं है…”
इस संबंध में जब Live VNS ने भदैनी वार्ड की पाषर्द मीनू शर्मा और उनके पति गोविंद शर्मा से बात की तो उन्‍होंने बताया कि जगन्‍नाथ गली में काम हृदय योजना के तहत जल निगम करा रहा है। मगर इसकी रफ्तार बेहद धीमी है। इसके लिये हम लोगों ने प्रधानमंत्री, मुख्‍यमंत्री सहित कमिश्‍नर, डीएम आदि जिम्‍मेदार लोगों से पत्र लिखकर की है। हमने मांग की है कि पांच जनवरी तक किसी भी हाम में हमारी गली को दुरुस्‍त किया जाए। उन्‍होंने बताया कि कई बार पत्र लिखने के बावजूद काम की गति तेज नहीं हो रही है, सामने प्रवासी भारतीय सम्‍मेलन है और गली का ये हाल है। चूंकि काम हृदय योजना के अंतर्गत आता है और कार्य जल निगम कर रहा है, ऐसे में ये काम नगर निगम का भी नहीं है जो हम इसमें प्रभावी दखल दे सकें।

हो रहा सिर्फ फाइलों का दौरा, जमीन पर आकर देखें मंत्री
पार्षद पति गोविंद शर्मा ने यहां तक आरोप लगाया है कि जिले के नोडल मंत्री सुरेश खन्‍ना जी लगातार वाराणसी दौरे पर आते हैं मगर सिर्फ फाइलों पर ही नजर दौड़ाकर वापस चले जाते हैं, अगर मंत्री महोदय विकास कार्यों की सच्‍चाई जानने गलियों में घूमें तो उन्‍हें विकास की असली हकीकत देखने को मिल जाएगी।

रोज हो रही है गली की खोदाई
वहीं सामाजिक कार्यकर्ता एवं जागृति फाउंडेशन के महासचिव रामयश मिश्र ने इस गली की दुर्दशा पर क्षोभ व्यक्त करते हुए कहा कि आज 4 साल से ऊपर हो गया इस गली में चल रहा सीवर का कार्य अभी तक पूरा नहीं हुआ है। रामयश मिश्र की मानें तो हर दिन इस गली की खुदाई होती है, जैसे मोहनजोदड़ो व हड़पप्पा की खुदाई हो रही है। इस गली की सुध लेने के लिए जिले के अधिकारी भी नहीं आ रहे हैं। साथ ही बात बात पर झाड़ू लेकर फोटो खींचने वाले सत्ताधारी दल के नेता भी इस गली में नजर नहीं आते हैं। गली सीवर जाम से बज बजा रहा है।

जिला प्रशासन नहीं ले रहा सुध
प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी जी का संसदीय क्षेत्र होने के बावजूद इस गली के प्रति जिला प्रशासन का उदासीन होना गहरे सवाल खड़ा करता है।

देखें तस्‍वीरें