नारस। कैंट पुलिस और एंटी क्राइम ब्रांच के संयुक्त अभियान के तहत जालसाजी करने वाले गिरोह के एक अभियुक्त को चेकिंग के दौरान गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के अनुसार गिरफ्तार अभियुक्त मुरेश गुप्ता ग्राम धावा मुहब्बतपुर थाना शादियाबाद जनपद गाजीपुर का रहने वाला है। इसके ऊपर मुक़दमा अपराध संख्या 986/18 धारा 419, 420, 467, 468, 471, 406, 120बी आईपीसी के तहत केस दर्ज है।

जमीन दिलाने के नाम पर करते है जालसाजी
पुलिस के पूछताछ में अभियुक्त ने अपना जुर्म कबूलते हुए कहा कि हम लोगो की जालसाजी व फ्राड करने की एक गिरोह है। जिसका सरगना राधेश्याम गुप्ता लेखपाल व चन्द्रमा प्रसाद चौहान है। हम लोग मिलकर अपने आर्थिक लाभ के लिए जनपद वाराणसी में लोगों को जमीन दिलाने के नाम पर पैसा हड़प कर आपस में बांट लेते हैं तथा जमीन का फर्जी व कूटरचित दस्तावेज तैयार कर रजिस्ट्री करवा देते हैं।

विज्ञापन

सीमा सुरक्षा बल के सैनिक को लगाया 15 लाख का चुना
इसी क्रम में हम लोगों ने मिलकर करीब एक वर्ष पूर्व कमलेश गुप्ता निवासी बेबादा थाना बहरियाबाद जिला गाजीपुर हाल पता रामनगर बलुआ रोड थाना सारनाथ जो कि भारतीय अर्ध सैनिक बल (सीमा सुरक्षा बल) में कार्यरत सुरक्षा सैनिक हैं।

जिन्हें जमीन दिलाने के नाम पर करीब 15 लाख रूपए मिलकर हड़प लिये तथा कूटरचित दस्तावेज तैयार कर सारनाथ क्षेत्र में जमीन की रजिस्ट्री करवा दिये। बाद में पता चला कि इस नाम की कोई जमीन ही नहीं है। उपरोक्त लोगों के सम्बन्ध में पता किया गया तो ये भोले-भाले लोगों को अपने जाल में फसा कर फर्जी तरीके से जमीन दिलाने के नाम पैसा हड़पकर फरार हो जाते हैं।

गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम प्रभारी निरीक्षक विजय बहादुर सिंह, सब इंस्पेक्टर अजय कुमार शुक्ला, हेड कॉन्स्टेबल प्रेम सिंह, हेड कॉन्स्टेबल धर्मदेव चौहान, कॉन्स्टेबल रामानन्द यादव, कॉन्स्टेबल संतोष शाह, कॉन्स्टेबल अमित कुमार सिंह एण्टी क्राइम टीम थाना कैण्ट शामिल रहे।

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।