नारस। प्रवासी भारतीय सम्मलेन को अपना सम्मलेन बनाने के प्रधानमंत्री के आह्वान पर सभी काशी वासी इस आयोजन को सफल बनाने में जुट गए हैं। जायके के लिए मशहूर काशी में इस समय लोग एक से एक जायका प्रवासी मेहमानों को परोसने की तैयारी कर रहे हैं।

उन्ही में से एक है बनारस के शरद श्रीवास्तव की पानी में छनी इमरती, क्यों हैरान हो गए न कि आखिर पानी में इमरती कैसे छानी जा सकती। पेश है इस पानी में छनी इमरती पर एक ख़ास रिपोर्ट

विज्ञापन

प्रवासी भारतीय मेहमानों के लिए काशी का जायका भी एक उपलब्धि होगी। इसके लिए विदेश मंत्रालय से लेकर जिला प्रशासन ने तैयारियां शुरू कर दी है। वहीं बनारस के जायके का स्वाद प्रवासियों को चखाने के लिए काशीवासी भी तैयारी  कर रहे हैं। उन्ही में से एक हैं काशी के शरद श्रीवास्तव जिन्होंने पानी में इमरती छान कर प्रवासी मेहमानों का ध्यान अपनी और आकृष्ट किया है।

शरद श्रीवास्तव ने इस इमरती के बारे में बताया कि आज कल ज़्यादातर लोगों को शुगर की बिमारी है और वो लोग मीठे का मज़ा नहीं ले पाते हैं। वैसे अब बाज़ार में शुगर फ्री मिठाई का क्रेज़ सा आ गया है। इसी बीच हमने प्रवासी भारतीय मेहमानों के लिए शुगर फ्री और केलोस्ट्राल मुक्त इमरती बनाई है। यह इमरती पानी में छानकर बनाई जा रही। इसमें किसी भी प्रकार की चाशनी का इस्तेमाल नहीं हुआ है और ना ही इसे आग पर पकाया जा रहा है। यह पूरी तरह से पानी में छानी जा रही है।

दूध के मक्खन से बन रही ये जादूई इमरती
शरद श्रीवास्तव ने बताया कि यह इमरती पूरी तरफ से शुद्ध दूध के मक्खन से बनाई जा रही है। पानी में बर्फ डालकर इसे छाना जा रहा है। ठंडक की वजह से मक्खन को इमारती का स्वरुप लेने में आसानी हो रही है।

शुद्ध और बिना तेल के बिना बन रही है
वहीं इस इमरती को बना रहे कारीगर रामा यादव ने बताया कि ये शुद्दता का खेल है। इसमें डेरी का मक्खन और मिश्री का समिश्रण हैं, जिसकी वजह से मक्खन आसानी से इमरती का रूप ले रहा है और पानी में पड़े हुए बर्फ की वजह से गिरे हुए तापमान में ये आसानी से जम जा रही है और शुद्ध इमरती बिना तेल के तैयार हो रही है।

स्वादिष्ट है पानी की इमरती
वहीं इस इमारती का स्वाद ले रही निधि सिंह ने बताया कि स्वादिष्ट है ये इमरती और सबसे बड़ी बात यह कि लो कैलोरी की है। आज कल लोग कैलोरी की वजह से कई चीजें नहीं खा पाते हैं लेकिन ये इमरती आसानी से खाई जा सकती है क्योंकि इसमें बहुती कम कैलोरी है।

 

विज्ञापन
Loading...