GRP ने काशी स्टेशन से पकड़ा दस हज़ार का ईनामिया, कई बार गया है जेल

विज्ञापन

नारस। जनपद से जहां अपराधियों को ख़त्म करने पर वाराणसी पुलिस आमादा है वहीं इसी नक्शेकदम पर गवर्नमेंट रेलवे पुलिस (GRP ) भी चल रही है। रविवार को जहां कैंट रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर पांच से जीआरपी ने एक हिस्ट्रीशीटर को अरेस्ट किया वहीं सोमवार को जीआरपी काशी पोस्ट पर तैनात चौकी प्रभारी की तत्परता से 10 हज़ार के ईनामिया को जीआरपी ने धर दबोचा।

पकड़ा गया वांछित ईनामिया अपराधी कई बार मुगलसराय जीआरपी और कैंट जीआरपी द्वारा जेल भेजा जा चुका है।

विज्ञापन

इस सम्बन्ध में जीआरपी कैंट प्रभारी ने बताया कि हमारी काशी चौकी पर तैनात चौकी प्रभारी उपनिरीक्षक अनिल कुमार श्रीवास्तव अपने हमराहियों संग देखभाल क्षेत्र में मौजूद थे उसी समय काशी स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 2/3 के उत्तरी छोर पर एक संदिग्ध युवक खड़ा दिखाई दिया। पुलिस टीम जब उस तरफ बढ़ी तो वह भागने लगा जिसे मौजपूदा जीआरपी टीम ने दौड़ाकर पकड़ा लिया।

पकडे गए अभियुक्त ने अपना नाम आकाश डोम निवासी भदऊ चुंगी, हरिजन बस्ती, थाना आदमपुर वाराणसी बताया। उसकी जब तलाशी ली गई तो उसके जेब से 125 ग्राम नशीला पाउडर अल्प्राजोलाम और 400 रूपये नगद बरामद हुआ। पकड़ा गया अभियुक्त जीआरपी थाने का दस हज़ार का इनामिया है।

प्रभारी निरीक्षक जीआरपी ने बताया कि पकडे गए इनामिया के ऊपर मुगलसराय और वाराणसी जीआरपी थाने में कुल 13 मुकदमे पूर्व में दर्ज हैं। इसे धारा 8/22 एनडीपीसी एक्ट के अंतर्गत जेल भेजा जा रहा है।

विज्ञापन