मॉरिशस से पधारे 264 प्रवासी भारतीय, बाबतपुर एयरपोर्ट पर हुआ जोरदार स्वागत

0
25

पिंडरा/विधि संवाददाता धनंजय शर्मा

नारस। वाराणसी में सोमवार से शुरू हो रहे प्रवासी भारतीय दिवस के लिये रविवार को 264 प्रवासी भारतीयों के साथ मॉरिशस का दल लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट पंहुचा। यहां सभी का एयरपोर्ट और वाराणसी जिला व पुलिस प्रशासन की ओर से पूरी गर्मजोशी के साथ जोरदार स्‍वागत किया गया।

तिलक लगाकर, रुद्राक्ष की माला से हुआ काशी में स्‍वागत
सभी मेहमानों का स्वागत भारतीय परंपरा और संस्कृति के अनुसार एयरपोर्ट निदेशक ए के राय के निर्देशन में हवाईअड्डा प्रशासन द्वारा किया गया। इस दौरान सभी का रुद्राक्ष की माला और एक स्पेशल किट देकर, वाराणसी प्रधारने पर अभिनंदन किया गया।

कमिश्‍नर-एसएसपी समेत अफसरों ने हाथ जोड़कर किया स्‍वागत
मॉरिशस से आये भारतवंशियों का स्‍वागत करने वाराणसी मंडल के कमिश्‍नर दीपक अग्रवाल, एसएसपी वाराणसी सुरेशराव आनंद कुलकर्णी, एयरपोर्ट की सुरक्षा का जिम्‍मा संभालने वाली सीआईएसएफ के डिप्टी कमाण्डेंट सुब्रत झा, एसडीएम पिंडरा एन एन यादव, सीओ पिण्डरा सुरेन्द्र यादव, आरटीओ वाराणसी, एआरटीओ राजन राय, बाबतपुर चौकी इंचार्ज मिर्जा रिजवान बेन सहित एयरपोर्ट के सभी अधिकारियों-कर्मचारियों ने मॉरीशस के लोगों का एयरपोर्ट पर जोरदार स्वागत किया। स्वागत करने वालो में बीजेपी के तरफ से वरिष्ठ नेता पवन सिंह व शैलेश पाण्डे उपस्‍थित रहे।

काशी आने पर कुछ इस अंदाज में मॉरिशस की एक प्रवासी मेहमान ने जाहिर की अपनी खुशी

इस दौरान एयरपोर्ट का नजारा देखने लायक रहा। एयरपोर्ट पर मौजूद अन्‍य यात्रियों में भी प्रवासी भारतीयों को लेकर काफी उत्‍सुकता देखी गयी। एयरपोर्ट पर प्रवासियों के स्‍वागत के लिये खूबसूरत रंगोलियां तैयार की गयी थीं।

#PBD2019 में शामिल होने #Varanasi #Kashi पहुंचते ही भाव-विभोर हुए प्रवासी मेहमान

भीरकोट नेपाल का राजपरिवार भी पहुंचा काशी
सोमवार से आयोजित होने जा रहे 15वें प्रवासी भारतीय दिवस में शिरकत करने भीर कोट नेपाल के
राजा श्रीप्रकाश शाह और उनकी पत्नि रानी राज्यलक्ष्मी शाह रविवार को वाराणसी पहुंचे। इस दौरान उनका भव्‍य स्‍वागत किया गया। नेपाल के राजशाही दम्पति अपने स्वागत से अभिभूत दिखे। वहीं उन्‍होंने काशी के तेजी से होते विकासकार्यों को देखकर आश्‍चर्य जताया।

पोलैंड से पहुंचे घीच दम्‍पति
योग गुरू प्रशासनिक अफसर हरिशंकर दुबे के आवास पर राजशाही दम्पति के साथ पोलैन्ड के जाने—माने चिकित्सक डॉ. जगदीश घीच एवं उनकी धर्म पत्नी बैलिना घीच का ढ़ोल नगाड़े की थाप पर थिरकते हुए लोगों ने तिलक लगाकर स्वागत किया।