नारस। डीजल रेल इंजन कारखाना अभिकल्‍प एवं विकास विभाग द्वारा महाप्रबंधक सभा कक्ष में प्रोत्‍साहन बैठक का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर अपने सम्‍बोधन में महाप्रबंधक रश्मि गोयल ने कहा कि हमारा प्रयास है कि डीरेका में आपूर्तिकर्ताओं को मैत्रीपूर्ण वातावरण मिले। गोयल ने कहा कि आपूर्तिकर्ता आपूर्ति संबंधी किसी भी कठिनाई के लिए‍ उनसे और उनकी टीम से मिल सकते हैं ।

विज्ञापन

बैठक में प्रमुख मुख्‍य विद्युत इंजीनियर ने आपूर्तिकताओं को सुझाव दिया कि वे विकास के लिए उन्‍हीं पुर्जों का चयन करे, जिसके निर्माण के लिए उनके पास सम्‍पूर्ण इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर हो।

उन्‍होंने डेवलपमेंटल आदेश की प्रक्रिया से विक्रेताओं को अवगत कराया एवं कहा कि विक्रेता समूह में किसी एक मद के लिए एप्रूव होने पर समूह के सभी मदों की आपूर्ति के लिए अधिकृत हो जाता है। उन्‍होंने डीरेका द्वारा निर्मित ऑनलाइन वेंडर रजिस्‍ट्रेशन सिस्‍टम तथा इसके लाभों से उपस्थित आपूर्तिकर्ताओं को अवगत कराया ।

बैठक में मुख्‍य अभिकल्‍प इंजीनियर/विद्युत लोको ने भी अपने उद्बोधन में डीरेका द्वारा विद्युत रेल इंजनों के उत्‍पादन में लगातार की जा रही वृदि्ध का उल्‍लेख करते हुए रेल इंजनों के उच्‍चस्‍तरीय कार्य निष्‍पादन एवं विश्‍वसनीयता हेतु गुणतायुक्‍त पुर्जों की आपूर्ति पर बल दिया ।

इस अवसर पर विभिन्‍न फर्म के प्रतिनिधियों ने भी अपने उत्‍पादों एवं उनकी विशेषताओं पर प्रकाश डाला।
बैठक के दौरान आपूर्तिकर्ताओं ने अपनी समस्‍याओं एवं कठिनाइयों के संबंध में संबंधित अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया तथा उनके निराकरण हेतु सुझाव दिये।

इस अवसर पर आपूर्तिकार्ताओं की शंकाओं का समाधान किया गया। आपूर्तिकर्ताओं ने डीरेका के सहयोग के प्रति आभार व्‍यक्‍त किया।

बैठक में विशेष रूप से सामग्री के विकास और आपूर्ति में सुधार / बाधाएँ, विद्युत रेल इंजनों की मदों की आपूर्ति के लिए साप्ताहिक पूर्वानुमान, उन्‍नयन हेतु सुधारात्मक कार्रवाई, 161 वस्तुओं के अलावा अन्य विकास के लिए विद्युत रेल इंजन के अतिरिक्त मद, ऑनलाइन विक्रेता मूल्यांकन आवेदन की स्थिति इत्‍यादि पर विचार विमर्श किया गया।

विज्ञापन
Loading...
www.livevns.in का उद्देश्‍य अपनी खबरों के माध्‍यम से वाराणसी की जनता को सूचना देना, शि‍क्षि‍त करना, मनोरंजन करना और देश व समाज हित के प्रति जागरूक करना है। हम (www.livevns.in) ना तो कि‍सी राजनीति‍क शरण में कार्य करते हैं और ना ही हमारे कंटेंट के लिए कि‍सी व्‍यापारि‍क/राजनीतिक संगठन से कि‍सी भी प्रकार का फंड हमें मि‍लता है। वाराणसी जिले के कुछ युवा पत्रकारों द्वारा शुरू कि‍ये गये इस प्रोजेक्‍ट को भवि‍ष्‍य में और भी परि‍ष्‍कृत रूप देना हमारे लक्ष्‍यों में से एक है।