वाराणसी में कक्षा 9 के छात्र की सिर कूंचकर निर्मम हत्या

नारस। शहर के लंका थानाक्षेत्र के रमना चौकी क्षेत्र में बाईपास इलाके में स्थित सत्कार ढाबे के ठीक पीछे एक निर्माणाधीन मकान में एक 15 वर्षीय किशोर का सर कूंच दिया गया। घायल अवस्था में पुलिस ने उसे ट्रामा सेंटर पहुँचाया जहां उसकी मौत हो गई।

किशोर सुसवाही स्थित नवनीता पब्लिक स्कूल में पढता था और स्कूल के रिकार्ड में वो 29 जनवरी से स्कूल नहीं आया था जबकि वह हर रोज़ की तरह आज भी घर से स्कूल के लिए निकला था। फिलहाल पुलिस एक युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

वाराणसी-प्रयागराज बाईपास पर स्थित सत्कार ढाबे के पीछे बंद निर्माणाधीन मकान में एक किशोर के घायल अवस्था में मिलने से सनसनी फ़ैल गई। इस सम्बन्ध में लंका थानाध्यक्ष भारत भूषण तिवारी ने बताया कि 100 नंबर पर किसी ने सूचना दी थी की एक स्कूली छात्र निर्माणाधीन मकान में घायल अवस्था में पड़ा है और उसके सर से खून बह रहा है। इसपर मौके पर पहुंचे फैंटम दस्ते ने तुरंत किशोर को ट्रामा सेंटर भेजा जहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई।

मृत किशोर की शिनाख्त रोहनिया के माधोपुर गांव के रहने वाले संजय सिंह के छोटे बेटे सौरभ सिंह (15) के रूप में हुई । वह सुसुवाहीं के नवनीता कुंवर स्कूल में कक्षा 9वीं का छात्र था। मौके पर हमने डॉग स्क्वायड बुलवाया था। छात्र के परिजनों ने इस घटना की सूचना पर विद्यालय में तोड़ फोड़ भी की है। उन्हें समझा बुझाकर शांत कराया गया है।

लंका थानाध्यक्ष ने बताया कि जांच में पता चला है कि सौरभ बीती 29 जनवरी से स्कूल नहीं गया था, जबकि परिजनों का कहना है कि वह रोज़ स्कूल के लिए घर से निकलता हिया और स्कूल की छुट्टी के टाईम ही घर लौटता है। फिलहाल हम सभी पहलुओं पर जांच कर रहे हैं। शक की बिनाह पर एक युवक को हिरासत में लिया गया है उससे पूछताछ जारी है।