CRPF कमांडेंट ने दीपदान करके शहीदों के लिये मां गंगा से मांगी शांति, दशाश्‍वमेध घाट पर लगायी गयी दान पेटिका

0
47

नारस। जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में बीते 14 फरवरी को हुए फिदायीन हमले में 40 से ज्‍यादा जवानों की मौत के बाद पूरे देश में आतंकवाद के खिलाफ गुस्‍सा है। वीरगति प्राप्‍त होने वाले सभी जवानों की आत्‍मा की शांति के लिये देशभर में लोग अपने-अपने ढंग से प्रार्थना भी कर रहे हैं। वाराणसी में सीआरपीएफ के 95 बटालियन के कमांडेंट ने सोमवार शाम सपत्‍नीक दशाश्‍वमेध घाट पहुंचकर गंगा में दीपदान किया और शहीदों की आत्‍मा की शांति के लिये मोक्षदायिनी मां जाह्नवी से प्रार्थना की।

हमारा जोश कम नहीं हुआ है : कमांडेंट
सपत्‍नीक गंगा घाट पर दीपदान करने पहुंचे कमांडेंट नरेंद्र पाल सिंह ने बताया कि जिस तरह से कश्मीर में आतंकी हमला हुआ है और इसमें उनके साथी शहीद हुए हैं, उससे हमारा जोश तनिक भी कम नहीं हुआ है, बल्कि हम और भी ज्‍यादा ताकत के साथ दहशतगर्दों के खात्‍मे के लिये अभियान में जुट गये हैं। कमांडेंट के अनुसार हमने आज मां गंगा से शहीद जवानों की आत्‍मा के लिये शांति की गुहार लगायी है। साथ ही घायल जवानों के स्वास्थ्य लाभ के लिये भी प्रार्थना की है।

गंगा सेवा निधि ने शुरू की नेक पहल
इसके अलावा दशाश्‍वमेध घाट पर प्रतिदिन सुबह-शाम की गंगा आरती का आयोजन कराने वाली संस्‍था ‘गंगा सेवा निधि’ की ओर से भी आज एक नेक पहल की गयी है। संस्‍था की ओर से पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों के परिजनों के लिये दशाश्‍वमेध घाट पर दान पेटिका रखी गयी है। ये दान पेटिका अगले 15 दिनों तक दशाश्‍वमेध घाट पर रखी रहेगी, जिसमें कोई भी स्‍वेच्‍छा से दान कर सकता है।

शहीदों के परिजनों के लिये दी जाएगी धनराशि : गंगा सेवा निधि
गंगा सेवा निधि के द्वारा इस पहल को सीआरपीएफ के कमांडेंट नरेन्‍द्र पाल सिंह ने बेहद ही सराहनीय बताया। वहीं गंगा सेवा निधि के कोषाध्‍यक्ष आशीष तिवारी के अनुसार प्रतिदिन यहां हजारों की संख्‍या में पूरी दुनिया से श्रद्धालु गंगा आरती देखने आते हैं, उनके योगदान से जो भी राशि इस दान पेटिका में इकट्ठा होगी वह सीआरपीएफ वाइव्‍स वेलफेयर एकाउंट में भेज दी जाएगी।

सीआरपीएफ जवानों के परिवार के लिये कार्य करती है ये संस्‍था
सीआरपीएफ वाइव्‍स वेलफेयर एसोसिएशन, केंद्रीय रिजर्व पुलिस में कार्य कर रहे अधिकारियों-कर्मचारियों की पत्‍नियों की ओर से संचालित किया जाने वाला स्‍वयंसेवी संगठन है। इसके जरिए जरूरतमंद कर्मचारियों और उनके परिवार की सहायता की जाती है साथ ही शहीदों के परिजनों के लिये भी ये संगठन मदद करता है।

पेटीएम से भी कर सकते हैं दान
इसके अलावा सीआरपीएफ वाइव्‍स वेलफेयर एसोसिएशन और मशहूर ई-वॉलेट कंपनी पे-टीएम ने मिलकर भी शहीद जवानों के परिजनों के लिये नेक पहल शुरू की है। अब कोई भी पेटीएम ऐप पर जाकर अपने स्‍मार्टफोन से ही शहीदों के परिजनों के लिये स्‍वेच्‍छा से धनराशि जमा कर सकता है। पेटीएम के लिंक पर जाने के लिये यहां क्‍लिक करें

देखें वीडियो