नारस। पुलिसकर्मियों के चुस्त-दुरुस्त रहने के पक्षधर पुलिस विभाग के साथ साथ प्रदेश सरकार भी रहती है, लेकिन अक्सर ये खाकी वर्दी मानवता को भी शर्मसार कर देती है। शहर के ईश्वरगंगी इलाके में औसानगंज रानी फाटक इलाके में पेश आया जब एक गाय कुएं में गिर गई और उसे बाहर निकलने के लिए पहुंचे ‘तोंदधारी’ फायरकर्मियों ने खुद कूएँ में न उतरकर एक स्थानीय युवक को रस्सी के सहारे उस गहरे कुएं में उतार दिया।

विज्ञापन

इस पूरे प्रकरण में संतोषजनक यही रहा कि गाय को स्थानीय लोगों की मदद से सकुशल बाहर निकाल लिया गया।

इस सम्बन्ध में बात करते हुए ईश्वरगंगी वार्ड के निर्दल सभासद सुनील यादव ने बताया कि ईश्वरगंगी वार्ड के औसानगंज रानी फाटक में एक सार्वजानिक कुआं है, जिसमे आज एक गाय गिर गई थी। इस सूचना पर जब मै यहाँ पहुंचा तो मैंने फायर स्टेशन को फोन किया तो वहां से लोग आए लेकिन उनमे से कोई भी फायर कर्मी कुएं में उतरने के लिए तैयार नहीं हुआ। इसपर क्षेत्र के ही एक युवक ने कुँए में जाने के लिए हामी भरी तो उसे फायरकर्मियों ने रस्सी और सेफ्टी बेल्ट के लिए गहरे कुँए में उतार दिया।

पार्षद सुनील यादव ने कहा कि फायर कर्मियों की ये बड़ी लापरवाही थी क्योंकि फायर कर्मियों को ट्रेंड किया जाता है इन सब परिस्थितियों से निपटने के लिए पर उनके मौजूद होने के बाद भी एक युवक को गहरे कुँए में उतारना लापरवाही है।

विज्ञापन
Loading...