नारस। काशी हिन्दू विश्वद्यालय का माहौल बार बार अराजकता की भेंट चढ़ रहा है। हर बार विश्वविद्यालय कार्रवाई करता है पर दुबारा से अराजकता फैल जाती है। अब इन अराजकतत्वों से निपटने के लिए बीएचयू प्रशासन ने पहली बार 12 छात्रों का पोस्टर जारी किया है। इस पोस्टर को विश्वविद्यालय में कई स्थानों पर चस्पा किया गया है। इन छात्रों का कैम्पस में प्रवेश प्रतिबंधित करते हुए इनसे हॉस्टल की सुविधा भी छीन ली गई है।

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के अंतर संकाय युवा महोत्सव ‘स्पंदन’ के दौरान वर्चस्व को लेकर बिड़ला -A और बिड़ला-C छात्रावास के छात्रों ने दो दिनों तक एक दूसरे के ऊपर पथराव और पेट्रोल बम से वार कर विश्वविद्यालय में अराजकता का माहौल पैदा कर दिया था। इससे पठन-पाठन में व्यवधान उत्पन्न हुआ था और कई छात्र घायल भी हुए थे। इस बवाल के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने छात्रों से पूछताछ के आधार पर 12 छात्रों के विरुद्ध लंका थाने में नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

विज्ञापन

इस कार्रवाई के बाद अब 12 आरोपी छात्रों का पोस्‍टर तैयार कराकर लंका गेट के अलावा बीएचयू विश्‍वनाथ मंदिर, सेंट्रल व साइबर लाइब्रेरी, कला संकाय आदि स्‍थानों पर लगाए गए हैं। छात्रों और लोगों से अपील की गई है कि इन छात्रों की कैंपस में किसी प्रकार की गतिविधि की जानकारी चीफ प्रॉक्‍टर के कंट्रोल रूम या फिर लंका पुलिस को दें।

विज्ञापन
Loading...